आंटी को ब्लॅकमेल कर चोदा

0
46146

आंटी को ब्लैकमेल कर चोदा

ही, ई’में लोवेरबोय में एक 19 साल का गुड लुकिंग लड़का हूँ में दिल्ली से हूँ, ओर अभी-2 1st एअर कंप्लीट किया है रोज़ जिम जाने की वजह से मेरी बॉडी अच्छी है जिसपे कोई भी लड़की फिदा हो सकती है.

लेकिन अभी तक मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है ब्कुसे में एक शर्मीला लड़का हूँ में लड़की को प्रोपोज करने से डरता हूँ की वो मेरे बारे में क्या सोचेगी इसकी वजह से मेरा इंटेरेस्ट शादीशुदा आंटीस में हो गया ये मेरी फर्स्ट स्टोरी है ब्कौसे इट्स में फ्र्स्ट एनकाउंटर ऑफ सेक्स व्त में सेक्सी आंटी जो की कुछ दीनों पहले हुआ अगर लिखने में कोई गलती हो तो प्लीज़ माफ करना हमारे घर में 6 मैंबर है, मेरे पापा,मम्मी, अंकल, आंटी में सेक्स गोडएसस,न्ड देयर डॉटर जो अभी 3 साल की है.

तो अब में अपनी आंटी के बारे में बताता हूँ वो 25 साल की है न्ड फेयर कलर, बिग आस,नाइस बूब्स मीन्स हॅव आ गुड फिगर वो उर्मिला मातोंडकर जैसे दिखती है मेरे अंकल की शादी 6 साल पहले हुई थी तब मुझे सेक्स के बारे में ज़्याड्डा पता नहीं था ब्कौसे ऑफ में लिमिटेड फ्रेंड्स लेकिन जब में 12त में आया तो मूठ मरने लगा,ओर में सेक्स की तलाश करने लगा, मेरा माइंड उनकी ओर कॉनवर्ट होने लगा, जब वो अपनी बेटी को दूध पिलाती थी तो में उनके बूब्स देखता था ओर मेरा लंड खड़ा हो जाता था तब मैंने सोचा के अगर उनको फ्सा लो तो घर में कम चल जाएगा वो पहले मेरे से फ्रेंक नहीं थी लेकिन जब में बड़ा हुआ तो वो मुझसे मेरे दोस्तों के बारे में पूछती थी, “की क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है” लेकिन में उन्हें मना कर देता थामे उनको फंसाने के नये आइडिया ढूंढ़ा था,

लेकिन वो मुझे कभी चान्स नहीं देती थी वो मुझे अपना बेटा जैसा मानती थी उनके दिल में मेरे लिए सेक्स की कोई बाहवना नहीं थी.में आआपको एक बात तो बताना भूल गया.ये बात तब की है जब मेरे अंकल की शादी को कुछ ही दिन हुए थे, मेरे अंकल के एक फ़्रेंड हमारे घर आअतए थे वो हॅंडसम है उंसेसे मेरी आंटी छिप के बात करती थी तब में छोटा था जिसकी वजह से मुझे ठीक से याद नहीं लेकिन एक दिन हमारे घर पर सिर्फ़ में ओर मेरी आंटी थे उस दिन वो अंकल आए ओर

मुझे खेलने जाने को बोला ओर में खेलने च्चला गया लेकिन उस दिन कोई खेलने नहीं आया था तो में जल्दी घर आ गया मैंने देखा की बाहर का दरवाजा खुला था में अंदर गया तो देखा की अंदर कुछ अजीब सी आवाजें आ रही है ऊऊहह छ्छूओद्दड़ दम मजा आ रहा है आ उई माआअहह उफफफ्फ़ दुख रहाआ हाीइ तोड़ाआ धीरे करो आ

में अपनी आंटी के रूम की तरफ गया तो देखा की दूर लॉक था मैंने दरवाजे से कोन लगा कर सुना तो अंदर से आंटी की सिसकियों की आवाजें आ रही थी आहाहाः हाः हूहो हो आराम से अहहहहेअ , मुझे कुछ अजीब लग आ में उन्हें देखने के लिए रास्ता ढूंढ़ने लगा तभी मुझे विंडो दिखी जिस पर परदा लगा था , मैंने आराम से परदा हाथ कर देखा तो में हैरान रही गया मेरी आंटी ओर वो अंकल दोनों नंगे बेड पर पड़े थे.

आंटी ऊपर थी ओर अंकल निच्चे दोनों उल्टे पोज़िशन में लेते थे(69) आंटी उनका लंड चूस रही थी ओर अंक ले अपनी जीभ उनकी लाल छू त के अंदर डाले हुए थे में यह देख के डर गया ओर वहां से भाग गया मैंने आज तक वो बात किसी को नहीं बातई अब में जब अपनी आंटी को चोदने के आइडिया डूंदता था तो मुझे वो बात याद आई अब मैंने सोचा की ये अच्छा आइडिया है उनको ब्लाककमल करके चोदने का. लेकिन मुझे कभी उनके साथ अकेले रहने का मौका नहीं मिलता था लेकिन फिर भी में उन्हें नांगा

देखने की कोशिश करता था एक दिन जब वो नहहने जा रही थी तो में पीछे पीछे उनके टॉयलेट के पास गया .उन्होंने अंदर जाकर दरवाजा लॉक कर लिया. में दरवाजे के पास खड़ा होकर उन्हें दरवाजे के छेद से देखने लगा उन होने पहले अपनी शादी उतरी, उन्होंने रेड ब्रा आर वाइट पैंटी पहनी थी में उन्हें ब्रा ओर पैंटी में देखकर शॉक हो मेरा लंड पूरा खड़ा होकर उप्पर नीचे होने लगा मुझे लगा की मेरी पेंट फुट जययएगी मैंने उसे एडजस्ट किया अब उन्होंने अपने दोनों हाथ

पीछे लेजा कर अपनी ब्रा की स्ट्रीप खोल दी ओर अपने बारे चुच्चे आज़ाद कर दिए में और भी पागल हुआ जा रहा था, वाउ! क्या चुच्चे थे मान कर रहा था की अभी उनको मुंह में कैद कर लू और अपने हाथों से उन्हें मसल दम लेकिन ये मुमकिन नहीं था तभी उन्होंने अपनी चुत को पैंटी के उप्पर से ही हाथ से सहलाया ओर बूब्स के स्तनों को हाथों से दबाने लगी शायद उनको उस टाइम चुदने की इच्छा हो

रहूं थी अब उन्होंने अपनी पैंटी को झुक के निकल दिया आस यार क्या चुत थी एक दम फूली हुई ओर पिंक कलर की, में तो दिवना हो गया उनकी चुत का मैंने पहली बार किसी लेडी को अपने सामने नंगा देखा था ओर मुझे पता चल गया था की चुत ऐसी होती है मेरे से रुका नहीं गया मैंने अपना लंड बाहर निकल लिया ओर सहलाने लगा अब आंटी टॉयलेट के फ़्लोर पर बैठ गयी ओर साथ पड़ा

टॉयलेट साफ करने का ब्रश उठाया ओर अपनी प्यारी सी चुत में डाल लिया ओर ज़ोर ज़ोर से अंदर बाहर करने लगी ,मुझे ये डेक्ख कर जोश चढ़ रहा था ,में अपना 7.5 इंच का लंड ओर ज़ोर से हिलने लगा आंटी अब झड़ने वाली थी उनके मुंह से ज़ोर ज़ोर से आवाजें आ रही थी अहाहाआ आस उउउ ईईइ अहहहहाअ ओर इसी के साथ उनकी चुत से पानी निकलने लगा अब में भी झड़ने वाला था में अपने रूम में आया ओर एक पेपर निच्चे लगाकर ज़ोर से अपना कम निकल दिया.

अब मेरी आंटी के लिए तड़प ओर तरफ गयी ओर तब मुझे ये सपना साकार होता नज़र आया जब मेरे अंकल बीमार हो गये ओर उन्हें हॉस्पिटल में एडमीशन कार्य गया तब मेरी आंटी ने कहाकी,”उन्हें अकेले सोने में डर लगता है”इसलिए में उनके रूम में सो जाओ ये बात सुनकर मेरी का ठिकाना नहीं रहा ओर मैंने तुरंत हां कर दी अब मुझे रात का इंतजार था मैंने रात के लिए सब कुछ डिसाइड कर लिया था .रात को हम सब खाना खाके सोने के लिए चले गये रूम में एक ही बेड था मुझे जल्दी

सोने की आदत नहीं है सो मैंने डेस्कटॉप ऑन कर लिया रूम की लाइट जल रही थी तभी आंटी ने मुझसे कहा की तुम थोड़ी देर के लिए बाहर जाओ, में ज़रा चेंज कर लेती हूँ .में बाहर चला गया ,लेकिन में उन्हें चुप कर देखने लगा उन्होंने अपने कपड़े उतारे गज़ब की बात ये थी की उन्होंने निच्चे कुछ नहीं पहना था लेकिन मेरे लिए ये बुरा वक्त था उन्होंने मुझे सामने वाले मिरर में से देख लिय्या

में डर गया ओर बाहर जाने लगा थोड़ी देर बाद आंटी बाहर आई उन्होंने ब्लू कलर की नाइटी पहनी हुई थी उसमें वो हीरोइन से भी सुंड आ आर लग रही थी उन्हें देखकर मैंने नज़रे झुका ली, तब वो मेरे पास आकर बैठी ओर मुझे सांझने लगी की में तुम्हारी आंटी जैसे होंठ उमहे ऐसे कम नहीं करने चाहिए मैंने उन्हें सॉरी बोला तब वो सोने के लिए चली गयी ओर में उनके कंप्यूटर को चेक करने लगा मेरी उनको देख कर बेचैनी तरफ रही थी.

में खुद को रोक नहीं पा रहा था तो मैंने नेट पे इंडियन सेक्स स्टोरीस खोली ओर पढ़ने लगा.मेरा लंड धीरे-2 खड़ा होने लगा दो तीन हॉट स्टोरी पढ़ने के बाद मैंने अपना लंड बाहर निकल लिया ओर मूठ मरने लगा अब मैंने खड़ा होकर लाइट बंद कर दी ओर में जाकर आंटी के साथ में बैठ गया मैंने एक हाथ से उनके बॉब्स को मसलने लगा ओर दूसरे हाथ से अपना लंड हिलता रहा थोड़ी इर बाद

मज़ेदार सेक्स कहानियाँ

मेरा जोश बाद गया ओर मैंने उनका चुचा ज़ोर से दबा दिया उनकी चीख निकल गयी और वो उठ गयी मुझे इस हालत में देखकर बहुत ही गुस्से में आ गयी मुझे डाँटने लगी मैंने उनकी एक ना सुनी ओर उन्हें बेड पर लिटा कर उनके ऊपर आ गया ओर उनके होंठ पर अपने होंठ रही दिए लेकिन वो तैयार नहीं थी ओर मुझे दूसरी तरफ धक्का दे कर उठ गयी.

आंटी: में अभी तुम्हारे आंटी अंकल को बताती हूँ
में: अगर तुम उन्हें बाटोगी तो में भी तुमहरा राज सबके सामने खोल दूँगा.
आंटी: कोन सा राज
में : वही तुम्हारी अंकल के फ़्रेंड के साथ चुदाई का राज़ अब आंटी के शॉक होने की बड़ी थी, वो डर गयी ओर मेरे पास आकर बैठ गयी.

में: मुझे तुम्हारी अंकल के फ़्रेंड के साथ चुदाई का सब पता है तुमहे इस रााज़ को राज़ रखने के लिए मेरे साथ सेक्स करना होगा.
आंटी: नहीं तुम मेरे बातें जैसे हो, में तुम्हारे साथ कैसे कर सकती हूँ
में : में अब एक लड़का हूँ ओर तुम एक लड़की हो अब हमारे बीच कोई रिश्ता नहीं है अब आंटी चुप बैठे थी उनकी गर्दन निकचे थी

में समझ गया की अब वो मजबूर है मैंने उनका हाथ पकड़ कर अपनी तरफ किचा वो बिना कुछ बोले मेरे पास लाइट गयी अब मैंने उनके मुंह पर मुंह रखा ओर एक जोरदार स्मूच झड़ दिया मैंने दोनों हाथ उसके दोनों बूब्स पर रख दिए ओर मसलने लगा, हमारा किस 10 मिनट.चलता रहा अब वो भी गर्म होने लगी ओर मेरा निच्चे से साथ देने लगी मैंने अब उनकी नाइटी ब्रेस्ट से पता दी में उसके चुच्चे को इतनी पास से देखकर खुद को रोक नहीं पाया ओर लेफ्ट चुच्छे को मुंह में

दबाने लगा ,चुचा बड़ा था वो आड़ा ही मेरे मुंह में आ रहा था अब मेरी आंटी के मुंह से आवाजें आनी शुरू हो गयी अहहहहाहहा ओ मेरा पूरा साथ देने लगी उसने अपने दोनों हाथों से अपने चुच्चे को मेरे मुंह में धकेलने लगी अब में इतना बर्दाश्त नहीं कर सका क्योंकि मेरा पहली बार किसी लेडी के साथ ये एक्सपीरियेन्स था ओर में झड़ने लगा आहहा आहहा आंटी में ए गया आहाहहा इसी के साथ मेरा कम आंटी के बूब्स पर गिर गया

मैंने कपड़े से उसे साफ किया अब थोड़ी देर के लिए फ्री हो गया लेकिन आंटी एक्सपीरियेन्स्ड थी उन्होंने मुझे निच्चे लिटाया ओर मेरे ऊपर चढ़ गयी जैसे कोई घोड़े पर स्वारी के लिए छा ह्ड़ता है उन होने मेरे 7.5इंच के लंड को अपने हाथ में पकड़कर कहा की तेरा तो बहुत ही बड़ा ओर मोटा है( मेरा लंड एवरेज लंड से मोटा है) ओर उन्होंने मेरे लंड को अपने मुंह में ले लिया अब मेरे आनद का ठिकाना नहीं था वो उसे बिलकुल लोलीपोप की तरह चूस रही थी जैसे कोई बच्चा चूसता है ओर बड़ी ही

सेक्सी लग रही थी मेरा लंड अब विशाल होता जा रहा था अब मैंने आंटी की बच्ची हुई नाइटी को उतार दिया ओर उन्होंने मेरी शर्ट ओर सॉर्ट को निकल दिया अब हम दोनों नंगे थे ओर सेक्स के नशे में डूबे हुए थे मैंने आंटी को 69 की पोज़िशन में आने को कहा उन्होंने जल्दी से मेरे उप्पर अपनी फूली हुई चुत फैला दी उनकी चुत बिलकुल गीली हो गयी थी ओर उसमें से अमृत रिस रहा था जिसे में बेकार नहीं करना चाहता था मैंने जल्दी से अपना मुंह उनकी चुत पर लगा दिया ओर उनका अमृत पीने लगा,में उसे

3-4 मिनट तक चुस्ताराहा अब मेरे चाटने से वो थोड़ी काँपने लगी ओर सेक्सी आवाजें निकालने लगी ओर आउट ऑफ कंट्रोल होने लगी अहहाआहहा ई लव यू अहहाहाहाई लव यू ऊहोो में गयी प्लीज़ ओर ज़ोर से ओर वो इसी के साथ झरने लगी मैंने उसका सारा रस पी लिया उसका स्वाद थोड़ा अजीब था लेकिन सेक्स की आग के कारण टेस्टी लगा सो स्वीट दोस्तों कभी आप भी पी कर देखनेआ आप उसे जिंदगी भर तक याद रखोगे अब आंटी बोलने लगी की प्लीज़ डाल दो अब मुझसे नहीं रुका जा रहा है मुझे टर ए अंकल को

याद करके उंग्लिदलके काम चलना पड़ता है कंट्रोल तो मेरे से भी नहीं हो रहा था लेकिन मैंने इस पर अपने भाइयों से सुना था की लड़की को जितना तड़पा गे उतना ही मजा मिलेगा अब में उन्हें निच्चे लिटा कर उनके ऊपर आ गया ओर अपना लंड हाथ में पकड़ कर उनकी चुत पर रगड़ने लगा वो बिन पानी की मछली की तरह माक्चलने लगी अब मुझसे कंट्रोल नहीं हुआ ओर मैंने एक ज़ोर का धक्का लगाया ओर लंड उनकी खुली चुत के अंदर लगा मेरी तो चीख निकल गयी मुझे ऐसे लगा जैसे मेरे लंड को किसी ने चको(नाइफ)

से काट दिया हो मैंने अपना लंड बहार निकाला तो देखा की उसकी स्किन सुपाडे पर से उतार गयी है ओर खून निकल रहा है तब आंटी ने कहा की पहली बार में थोड़ा दर्द होता है तुम्हारे अंकल को भी हुआ था तो में थोड़ा रिलॅक्स हुआ ओर आहिस्ता आहिस्ता से दुबारा अपना लंड उनकी मस्त चुत में डाल दिया उनकी चुत बहुत खुली थी शायद अंकल उन्हें रोज़ चोदते होंगे इस लिए वो भी सॅटिस्फाइड थी, उनकी चुत बहुत गरम थी मेरा लंड चुत में जाते ही सारा दर्द भूल गया अब अमम धीरे -2 अपनी आस

को ऊपर निच्चे करने लगा अब आंटी कहने लगी और ज़ोर ज़ोर से चोदा ना मुझे और ज़ोर से कम ओनन्न ऊओह मैं सेक्स के नशे में कुछ भी बोले जा रहा था,”मैं भी आज तुझे ज़ोर ज़ोर से चोद चोद के रंडी बना दूँगा और मैं भी उसे ज़ोर ज़ोर से शॉट मरने लगा और आंटी भी मेरा साथ देने लगी ओर अपनी आस को उठा उठा के निच्चे से मुझे चोदने लगी करीब 20 मिनट तक में उसे ज़ोर ज़ोर से धक्के लगता रहा अब आंटी कहने लगी अब वो झड़ने वाली है तुम अपनी रफ्तार फुल कर

दम मैंने अपनी बढ़ता बिलकुल रेल की तरह कर दी आंटी ने मुझे ज़ोर से गले लगा लिया और उसने अपना पानी छोड़ दिया लेकिन मैं अभी भी आंटी को चोद कर निहाल कर रहा था तभी मारा भी कम निकल गया और मैंने अपना पूरा कम आंटी की चुत में ही चोद दिया और उसके बाद मैं आंटी के ऊपर ही लेट गया मेरा लंड अब भी आंटी की चुत में था हम 30 मिनट बाद उठे अब रात काफही हो चुकी थी ओर हम ठीक भी गये थे तो हम फ्रेश हो कर आए ओर ऐसे ही नंगे एक दूसरे की बांहों में सो गये

सुबह करीब 6 बजे मेरी नींद खुली तो मैंने देखा की आंटी मेरे पैरों के पास लेती है ओर मेरे लंड को अपने जीभ से चाट रही है , यह देखते ही मेरा भी मूंड़ बन गया मैंने आंटी से नीचे लेटने को कहा लेकिन आंटी बोली की नहीं अब म्‍मैइन तुमहे छोड़ूँगी वो मेरे ऊपर आ गयी ओर मेरे लंड को अपनी चुत पर एडजस्ट करते हुए एक ज़ोर का झटका दिया ओर लंड अपनी चुत में स्मा लिया मेरी रात वाली स्किन फिर से दुखने लगी लिकिन उतनी नहीं सो में अब नीचे से अपना लंड उनकी चुत में अंदर

तक पहुंचने लगा ओर उनके गर्भस्या को टच करने लगा वो भी पूरे ज़ोर से मेरे मोटे लंड पर उछाल रही थी अब ह्मे रात से भी ज्यादा मजा आ रहा था ये मेरी बेस्ट पोज़िशन थी जो में पॉर्न वीडियोस में देखता था हमने करीब 30 मिनट तक चुदाई की ओर इस टाइम में आंटी दो बार झड़ी उन्होंने मुझे गले से लगा लिया में भी उनको

चिपक गया ओर कहने लगा थॅंक्स आंटी आपने मुझे स्वर्ग का रास्ता दिखा डियाओ कहने लगी की तुमने भी मुझे पूरा मजा दिया अब हम मौका मिलता ही चुदाई करेंगे अगर आपको मेरी स्टोरी अच्छी लगे तो प्लीज़ मैल में (अगर कोई आंटी या लड़की दिल्ली या न्क्र से फोन सेक्स या रियल सेक्स करना चाहे तो प्लीज़ सेंड में मैल व्त फोन नो इट’से सेक्यूर में आइडी इस )

आंटी को ब्लैकमेल कर चोदा

Content Protection by DMCA.com

LEAVE A REPLY