पड़ोस वाली देसी आंटी को चोदा – Sexy hindi sex story

1
39459
loading...

पड़ोस वाली देसी आंटी को चोदा – Sexy hindi sex story
हेलो फ्रेंड्स. . . . .में राहुल, मेरी हाइट 5’6 है, आगे 18,में कॉम्प्लेक्शन इस फेयर और मेरा लंड 8 इंच लंबा और 3 इंच मोटा है. . . . मुझे अलग-अलग औरतों के साथ सेक्स करने में बहुत मजा आता है खास कर की जो मुझसे आगे में ज्यादा हो. अगर आपको मेरा ये स्टोरी पसंद आया तो मुझे जरूर मैल करना

ये कहानी एक साल पहले की है जब में 12त के बाद इंजीनियरिंग के काउन्सेलिंग करने के लिए दिल्ली गया था. वहां पे मैं अपने मामा के घर रुका था. मेरे मामा अपनी वाइफ के साथ एक अपार्टमेंट में रहते थे. उस अपार्टमेंट में मेरे मामी के बहुत अच्छी दोस्त थी, उनका नाम अनन्या था देखने मैंने एकदम गोरी-चिट्ठी. उनके आगे 33 थी और वो शादी-शुदा थी. उनके पति एक एम इन सी में काम करते है.

उनके बूब्स 34 और गान्ड 38 था. मैंने जब उन्हें पहले बार देखा तो मेरा लंड एकदम टाइट हो गया और उनको चोदने के लिए बाहर आने को छटपटाने लगा. मैंने उन्हें चोदने का उस टाइम मान बना लिया था. जब वो मेरी मामी से मिलने आए तो मैं उनके पास जा कर बैठ गया और उनसे काफी बातें करने लगा. उस रात मैं उनके नाम का 2 बार मूठ मारा था.
आंटी ने जॉब चोर दी थी कुछ टाइम के लिए, तो उनके पति के ऑफिस चल जाने के बाद वो घर पर अकेले रहती थी. आंटी से मिलने के अगले दिन मैंने उनके पति का इंतजार कर रहा था की वो कब ऑफिस जाएँगे और जैसे ही मैंने उनके पति को ऑफिस के लिए निकलता हुआ देखा मैं तैयार हो गया उनके घर जाने के लिए.

मेरे मामा और मामी दोनों वर्किंग है इसलिए घर पे अकेले बोर हो रहा था ये बहाना आंटी को बोल कर मैं उनके घर आ गया. आंटी बहुत ही अच्छी थी, उन्होंने मुझे अंदर बुलाया और कुछ स्नॅक्स दिया खाने को,फिर हम दोनों बातें करने लगें.

उनके घर में बेसिन के नीच एक रोड लगा था जिससे मेरा लग थोड़ा सा काट गया था. आंटी ने मेरे पैर पे बॅंडेज लगा दिया और फिर मुझे हॉस्पिटल ले गयी टेटेनस का इंजेक्शन लगाने. हॉस्पिटल में नर्स मेरे हिप पे इंजेक्शन लगाने जा रही थी ये देख आंटी वहां से जाने लगी,तो मैंने आंटी को रोक लिया बहाना बना कर की मुझे इंजेक्शन से डर लगता है. इंजेक्शन लगते टाइम मैंने आंटी का हाथ पकड़ लिया, इंजेक्शन लगने के बाद नर्स ने मुझे कॉटन से अपने हिप को सहलाने को कहा. मैं जान मुझ कर इस तरह सहला रहा था की आंटी को लगे की मुझे प्राब्लम हो रहा है सहलाने में. ये देख कर आंटी मुझसे कॉटन लेकर खुद सहलाने लगी,उनका हाथ जब मेरे हिप्स पर लगा तो मुझे ऐसा लगा की मैं जन्नत की सैर कर रहा हूँ, मेरा लंड खड़ा हो गया था मुझे तो बस उन्हें चोदने का मान कर रहा था लेकिन किसी तरह मैंने कंट्रोल किया. मैं हॉस्पिटल में ही एक बार मूठ मारा और उसके बाद हम वापस आ गये,मैं आंटी को थेन्क यू बोल कर वापस घर आ गया और रात में 3 बार उनके नाम की मूठ मारी.

फिर मैं हमेशा उनके पति के जाने के बाद उनके घर चल जाता उनसे बातें करने. उनके घर पे उनके काफी क्लोज़ आने का कोशिश करता था, मैं हमेशा उनके साथ सेल्फी लेता था कभी उनके कमर पे हाथ रख कर तो कभी शोल्डर से हाथ नीचे करके उनके बूब्स को टच करने का कोशिश करता, आंटी ने कभी इन सब बातों पर ध्यान नहीं दिया करती थी. मैं हमेशा ये सब करने के बाद घर जाकर उनके नाम की मूठ मरता था.

फिर एक दिन मेरे किस्मत खुली और आख़िरकार मुझे आंटी को चोदने का मौका मिल ही गया. मैं आंटी के घर गया उड़ दिन, दरवाजा खुला था, आंटी ड्रॉयिंग रूम मैंने नहीं थी तो मैं डायरेक्ट उनके बेडरूम में चल गया. मैंने देखा की वो स्टेर्स पे थी रूम साफ कर रही शॉर्ट्स और टाइट से छोटी से टॉप पहनी हुई थी जिससे उनका थोड़ा सा पीठ दिख रहा था. मेरा लंड खड़ा हो गया मेरा मान किया की आंटी को बस चोद दम. उन्होंने मुझे नहीं देखा था. क्लीनिंग करते करते उनका बैलेन्स स्लीप कर गया और गिर गये. मैं जल्दी से आंटी के पास गया,उन्हें अपने गोद में उठाया और उन्हें बेड पे लेता दिया. उनके पीठ पे थोड़ा चोट लग गया था तो मैंने कहा लाइए में आपके पीठ पे मूव लगा दो,पर वो मना करने लगी,पर मैंने जब जिद की तो वो मन गये.

मज़ेदार सेक्स कहानियाँ

मैंने उनका टॉप इतना ऊपर कर दिया था की उनकी रेड कलर की ब्रा दिख रही थी. कहा पे चोट लगा है ये पूछने के बहाने मैं उनके पूरे पीठ पे अपना हाथ फेयर रहा था.
मेरा लंड पूरा खड़ा हो गया था. मूव लगते लगते मैं अपने एल्बो से उनके बूब्स टच कर रहा था और ब्रा के ऊपर नीचे अपना हाथ फेरने लगा. उसके बाद हिम्मत करके मैंने उनके ब्रा के हुक्स खोल दिए. ये देख कर वो गुस्सा गये और बोलने लगी की ये क्या कर रहे हो तो मैंने कहा की आंटी ब्रा के वजह से थोड़ी प्राब्लम हो रही थी इसलिए हुक खोल दिया,तो उन्होंने कहा की मैं बची नहीं हूँ की तुम जो बोलो मान मान लूँगी,तब मैंने कहा बच्चा तो मैं भी नहीं हूँ. . . और ये कहकर उनका ब्रा हटाकर फेंक दिया.
वो जब पीछे मुड़ी तो उनके बारे-बारे गुब्बारों को देख कर मैं तो पागल सा ही हो गया था. मैं उससे खेलने जा ही रहा था की वो मुझे रोकी और बोली की मैं शादी-शुदा हूँ मैं ये सब नहीं कर सकती तुम्हारे साथ. तो मैंने कहा की आप जिंदगी भर अपने चुत में सिर्फ़ एक लंड से कैसे मजा ले सकती हैं और फिर थोड़ा कॉनविंक एकरने लगा,
फिर मैं उन्हें किस करने के लिए आगे बढ़ा तो उन्होंने मुझे रोका नहीं पर मेरे किस का रिप्लाइ भी नहीं दिया. फिर मैंने उनसे कहा की अगर आप अपने मेंटल और फिज़िकल सेटिसफेकशॅन के लिए अगर कुछ अपने पति से चुप के करती हैं तो आप कुछ गलत नहीं कर रही. . . ये बोलकर मैं फिर उन्हें किस करने लगा,इस बार उन्होंने थोड़े देर तक रेस्पॉंड नहीं किया पर फिर वो भी मेरा साथ देने लगी. मैं बहुत खुश हो गया और पूरे जोश मैं आ गया.

मैंने उनका टॉप निकल और शॉर्ट्स निकल कर फेंक दिया,अब वो सिर्फ़ अपने पैंटी में मेरे सामने बैठी थी. फिर मैंने भी अपना टी-शर्ट और हाफ पेंट निकल के फेंक दिया और फिर उनका पैंटी भी फेंक दिया. पैंटी खोलते ही मैं हैरान हो गया. उनकी चुत गीली थी और उस पर एक भी बाल नहीं था, पहले बार मैंने किसी औरत को लाइव न्यूड देखा था. फिर मैं पागलों की तरह उन्हें किस करने लगा और उनके बूब्स दबाने लगा. मैं उनके निपल्स को अपने दाँत से काट रहा था, और उसकी सिसकियां मुझे और जोश से भर दे रही थी.

उनके गुब्बारों का मजा लेने के बाद मैं उनके चुत चाटने लगा. मुझे तो लग रहा था की मैं आज जन्नत पहुंच गया हूँ. . . . उसी सिसकियां बढ़ी रही और मैं और ज्यादा तेजी से उनका चुत चाटने लगा,फिर थोड़े देर बाद उसने झाड़ दिया, मैंने उसका सारा कम पे लिया. फिर उसने मेरा आंडरवेयर खालो दिया,मेरे 6इंच के लंड को देखकर वो बहुत खुश हो गये और बोली मैंने इतना लंबा और मोटा लंड कभी चुत मैं नहीं लिया है तो मैंने कहा की आज आपको पूरी जन्नत की सैर करा दूँगा. फिर वो मेरा लंड मुंह में लेने लगी, मुझे बहुत मजा आ रहा था,वो इतनी तेजी से मेरा मुंह में ले रही थी की मेरा लंड झड़ने ही वाला था तो मैंने उससे कहा की मुझे आपके मुंह में झड़ना है, पर उसने मना कर दिया लेकिन मेरे कन्विन्स करने पर वो मान गये और मेरा सारा कम पे गये.

फिर वो कहने लगी प्लीज़ मेरे चुत को और मत तड़पा और अपना लंड दाल दो,मैंने कहा आंटी अभी सब्र रखिए और उनके बूब्स के बीच अपना लंड घुसने लगा. फिर मैंने आंटी को 69 पोज़िशन में आने को कहा, और फिर मैं उनका चुत चाटने लगा और वो भी मेरा लंड चूसने लगी. करीब 10 मिनट तक चुत चाटने के बाद मैंने सोचा अब चुत फाड़ ही डालता हूँ. और फिर उसके दोनों पैर फैला कर अपना पूरा लंड उसकी चुत में एक ही बार में डाल दिया. आंटी चीख उठी और बोली राहुल मैंने इतना लंबा और मोटा लंड कभी अपने चुत में नहीं लिया है इसलिए प्लीज़ आराम से चोदो पर मैं कहा सुनाने वाला था और मैं फुल बढ़ता से उनकी चुदाई करने लगा. थोड़ी देर में वो भी अपना गान्ड उछाल-उछाल कर मेरा साथ देने लगी. 15 मिनट तक उसकी चुदाई करने के बाद मैंने उसे डॉगी स्टाइल मैं आने को कहा,उसके बारे से गान्ड को देखकर मैं तो मदहोश हो गया था और फिर गांड में उंगली करने लगा,उसकी सिसकियां बढ़ने लगी. मैंने उसके गान्ड में भी एक ही झटके में अपना पूरा लंड डाल दिया,इस बार भी वो चीख उठी और मुझे थप्पड़ मारा,पर मैं नहीं रुका उसकी गान्ड मरता रहा. फिर मैंने उसे अपनी गोद में उठाया और उसे चोदने लगा. चोदते-चोदते मैंने उसकी चुत में ही झाड़ दी. करीब 40 मिनट तक हम एक दूसरे का मजा लेते रहे. फिर थोड़ी देर आराम की,और फिर आधा घंटा तक उसकी चुदाई करता रहा.

उसके बाद उसने मुझे भेज दिया क्योंकि उसके पति के आने का टाइम हो गया था. . . . उसके बाद मैं जब तक दिल्ली में था उसे चोदने का मौका नहीं चोदता था. संडे को जब उसका पति घर में रहता था तब हम होटल में जा के मजा करते थे. मेरे दिल्ली से वापस आ गया और उसके बाद कभी नहीं मिला.
पड़ोस वाली देसी आंटी को चोदा – Sexy hindi sex story

Content Protection by DMCA.com

1 COMMENT

  1. Teacher- Agar sachche dil se prarthnaa kee jaae to vo jaroor safal hote hai.
    Pappu rahane do Sir, agar aisaa hota to aap mere Sir naheen Sasur hote.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here