मेरी कज़िन बहन – Meri Cousin behan

9
62436

Pata nahi kyo main namita ke taraf attracte ho raha tha jabki somya bhi jawan ho rahi thi lekin mujhe usme koi interest nahi aa raha tha. Meri Cousin behan mera shayad pahla pyar ban gai thi.

मैं इस साइट का रेग्युलर पाठक हूँ और मुझे इसमें सभी कहानियां अच्छी लगती है लेकिन सबसे ज्यादा अच्छी स्टोरी मुझे कज़िन बहन और भाई वाली लगती है क्योंकि आइ लव माइ कज़िन सिस्टर और मैं भी अपनी बहनों को चोद चुका हूँ इस लिए आज मैंने भी सोचा की क्यों ना मैं भी अपनी दिल की बात आप सब रीडर दोस्तों के साथ बंटे. क्योंकि ये आप भी जानते है की ये सब बातें हमारे समाज मैं गलत मना जाता है और मैं अपने आप को गलत मानता हूँ लेकिन मैं भी क्या करूं अब मुझे अपनी कज़िन बहनो से ही प्यार हो गया तो मैं क्या कर सकता हूँ.वो कहावत तो आपने सुनी होगी की “दिल लगी देवार से तो पड़ी क्या चीज़ है”यही दोस्तों मेरे साथ हुआ है शायद आप मारी फिलिंग को समझ पाए. ओके मैंने आप लोगों को काफी बोर कर दिया होऊंगा अब मैं अपनी स्टोरी सुनता हूँ. माइ नेम ईज़ रोहित. मैं अभी दिल्ली मैं रही रहा हूँ. मेरे घर मैं मेरे दादी और मदर ओर 2 कज़िन छोटी बहन है .मारी उमर अभी 23 साल है और मेरे से छोटी बहन की उमर २० साल और छोटी वाली बहन की उमर करीब 19 साल है. ये कहानी करीब 3 साल पहले स्टार्ट हुई थी. दोस्तों हम लोग सभी घर मैं साथ रहते हैं मारे दादी गवर्नमेंट एंप्लायी है और मदर टीचर है इस लिए वो दोनों रोज़ ड्यूटी चले जाते है मारी बड़ी सिस्टर का नाम नामिता है और वो अभी भी.ए पार्ट सेकेंड मैं है और छोटी बहन 12त का एग्ज़ॅम देने वाली है उसका नाम सोमया है.मैं अभी में.भी.ए की तैयारी करता हूँ इस लिए घर पर ही रही कर तैयारी कर रहा हूँ. दोस्तों मैं आज आपको ये बताने वाला हूँ की मैंने अपनी बहनो को कैसे छोडा. अब मैं अपनी स्टोरी सुनता हूँ पसंद आए तो मुझे जरूर रिप्लाइ दीजियेगा.

हम लोग साथ मैं ही एक ही घर मैं रहते है, ई मीन मेरा और सिस्टर्स का रूम एक ही हैं और आंटी और अंकल का एक रूम है. जिस कारण से मैं बचपन से ही अपनी बहनो को देखते आ रहा हूँ .बचपन मैं जब मैं छोटा था तो कुछ गलत लड़कों की संगति के कारण मैं सेक्स के बारे मैं जल्दी ही जान गया था,उसे समय मेरी उमर शायद 18 साल होगी और मारी छोटी सिस की करीब 18 और सबसे छोटी वाली की सिस्टर की उमर करीब 16 साल की होगी.सेक्स के जानकारी होने के कारण और गलत बुक्स और गलत दोस्तों के कारण मैं मूठ मारना (हस्तमैथुन) शुरू कर दिया .इसे बीच मेरी छोटी सिस्टर नामिता पर भी जवानी आ रही थी और मैं उसके तरफ अट्रेक्ट होने लगा. मैं जोश मैं कभी उससे गले से लगा कर उसके गोल गोल संतरे जैसे चूची का मजा लेता तो कभी उसकी कमर पकड़ कर उसके गांड का मजा लेता था वो छोटी होने के कारण इस हरकत को भाई का प्यार समझती थी लेकिन मैं तो कुछ और ही मजा लेता था. इसी बीच मैं कभी कभी जब वो सो जाती तो मैं धीरे से उसके फ्राकक (स्कर्ट) को उठा कर और उसकी वाइट जांघों और उसकी चूची को चूमता और उसके होठों को चूमता और उसका हाथ को अपने लंड को पकड़ कर मूठ मरता था वो नींद मैं होने के कारण जगह नहीं पति थी और मैं धीरे धीरे मजे लेता रहता था,मुझे आज भी याद है जब मैंने पहली पर उसकी मस्त बुर् को देखा था .वो उसे दिन गहरी नींद मैं थी और मैं धीरे धीरे उसके बगल मैं जाकर सो गया(हम लोगों का कमरा कॉंमान था ई मीन मेरा और सिस्टर का)और धीरे से उसकी फ्राकक को उठा दिया मैंने देखा उसकी मस्त जाँघ एक दम मुलायम थी और मैंने धीरे धीरे फ्राकक को और ऊपर किया और देखा की नामिता ने ब्लैक कलर की पैंटी पहनी हुई है.

मैं तो उसकी बुर (चुत) देखना चाहता था इस लिए धीरे धीरे उसकी पैंटी नीचे किया मैंने देखा उसके बुर् पर एक दम हल्के हल्के भूरे भूरे बाल है. मैं तो उससे देखते ही मदहोश हो गया और उसकी बुर् को चूमने लगा फिर मैंने धीरे धीरे उसकी बुर् मैं एक उंगली डाली और अंदर बाहर करने लगा उसकी बुर् बहुत टाइट थी (उस समय उमर करीब 18 साल होगी) मैं एक हाथ से बुर् मैं उंगली से चोद रहा था और एक हाथ से मूठ मर रहा था. इसी तरह दोस्तों मैं मजे लेता रहता था और जब मेरा मान करता तो जब वो सो जाती तो उसकी जवानी का मजा लेता रहता था लेकिन मैं उससे चोद नहीं पा रहा था क्योंकि सोचता था की कही ये जगह गई तो फिर घर मैं आंटी और अंकल से कह देगी इस लिए हाथ से ही कम चला रहा था .फिर मैं हॉस्टल मैं पढ़ने चला गया और मुझे अपनी बहन से प्यार सा हो गया था मुझे सब लड़कियों से ज्यादा सेक्सी मेरी सिस्टर ही लगती थी क्योंकि मैंने उससे नंगे देखा था शायद इस लिए. फिर मैंने जब भी हॉलिडेज़ मैं घर पर आता तो नामिता के सो जाने के बाद मैं मजे लेता रहता मेरी सिस्टर धीरे धीरे जवान हो रही थी और मैं उसकी मस्त जवानी का दीवाना होते जा रहा था. मैं हमेशा जब भी हॉस्टल से घर आता तो मैं उससे चोदने के लिए सोचता रहता था और हॉस्टल मैं उसकी मस्त जवानी को सोच कर मूठ मरता रहता था. पता नहीं क्यों मैं नामिता के तरफ अट्रॅक्ट हो रहा था जबकि सोमया भी जवान हो रही थी लेकिन मुझे उसमें कोई इंटेरेस्ट नहीं आ रहा था. मेरी बहन मेरा शायद पहला प्यार बन गई थी. दोस्तों अब मुझे जाना है इस लिए मेरे अगले स्टोरी का इंतजार करिएगा आगे मैं बताऊंगा की मैंने अपने बहनों को कैसे चोदा.

Content Protection by DMCA.com

9 COMMENTS

  1. hi i am sam aur gwalior me rehta hoo agar koi ladki ya bhabi sex me intrested hope call kare it’s totaly secret….

  2. Apni ma bahin chodate huye saram ni ati kya tm sb madarchod ho kuttto

    Mai iski cumplen karunga
    Or is a site ki ye sb jo koi karta h wo sb jel jane ke liye taiyar raho

    Or jel me apni maaa ko bula ke sex chodana

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here