Home Stories - November 2016 चुदाई से बड़ा और कोई सुख नही – 71

चुदाई से बड़ा और कोई सुख नही – 71

0
12

,मैंने अपने हाथ आगे करके भुआ के बूब्स को पकड़ लिया ओर मसलने लगा,,भुआ ने मेरी तरफ देखा ओर मेरे हाथ पकड़ कर ज़ोर से अपने बूब को दबाने ओर मसलने लगी मैंने भी ज़ोर से मसलना शुरू कर दिया फिर भुआ के हाथ मेरे लंड पर नहीं था इसलिये भुआ अपने मुंह में ओर ज्यादा लंड लेने लगी थी इतना अंदर तक की कभी-2 उनकी खाँसी भी आ जाती थी ओर साथ ही आँखों में पानी भी आ जाता था,,भुआ इतनी मस्त थी की उनको अपने मुंह से निकालने वाले थूक का पता ही नहीं लग रहा था जो मेरे लंड को पूरी तरह से गीला कर रहा था ओर लंड से होते हुए सोफे पर गिर रहा था,,भुए दीपत्र्ोआट कर रही थी ओर लंड को गले के अंदर तक लेने की कोशिश कर रही थी,,मुझे ऐसा लग रहा था जैसे मेरा लंड किसी टाइट जगह में घुस रहा है,,भुआ की जुबान बाहर निकली हुई थी ओर भुआ तेज तेज मुंह को ऊपर नीचे कर रही थी,,मैंने अपने हाथ भुआ के बूब्स से उठा लिए ओर भुआ के सर पे रख दिए ओर भुआ के सर को लंड पे दबा दिया भुआ को बड़ी तेज कॉफ शुरू हो गयी ओर भुआ ने लंड को बाहर निकल दिया ओर फिर से मुंह में ले लिया,,मैंने फिर से भुआ के सर को पकड़ा ओर लंड पे दबाया तो इस बार भुआ ने ष्टिथि को संभाल लिया ओर मुंह को ज्यादा खोल दिया जिससे लंड हल्का सा गले के नीचे तक चला गया,,तभी मैं खड़ा हो गया ओर भुआ को सोफे पर बिता दिया ओर उनकी गर्दन को सोफे से सात कर आराम से पीछे की तरफ झुका दिया ओर खुद सोफे पर चढ़ गया ओर लंड लो भुआ के मुंह में डाल दिया भुए ने भी मुंह को सारा खोल दिया ओर मैंने लंड मुंह में डालकर चोदना शुरू कर दिया,,लंड भुआ के गले सी नीचे तक जा रहा था तभी पूजा भी बाहर आ गयी ओर सामने सोफे पर बैठ गयी वो बड़ी हैरानी से मुझे भुआ के मुंह को चोदते देख रही थी,,

चुदाई से बड़ा और कोई सुख नही - Chudai Se Bada Aur Koi Sukh Nahi

<< चुदाई से बड़ा और कोई सुख नही – 70चुदाई से बड़ा और कोई सुख नही – 72 >>
Content Protection by DMCA.com

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here