मेरी फ़ेसबुक फ्रेंड नेहा की चुदाई – Facebook Indian sex story

1
1905
Back

1. मेरी फ़ेसबुक फ़्रेंड नेहा की चुदाई – Facebook Indian sex story – Part – 1

सब को पर्णाम, मैं कोई स्टोरी राइटर नहीं हूँ और मेरी ये सच्ची घटना है जो मेरी पुणे में घाटी है और मेरा नाम साहिल मल्होत्रा है और मैं पुणे में कॉरेगाओं पार्क में रहता हूँ, अब आप लोगों का टाइम वेस्ट ना करते हुए सीधा स्टोरी पर आता हूँ, 13त नोव 2014 को मेरे पास एक लड़की की फ़्रेंड रिकवेस्ट आई नाम था नेहा (फेंक नाम) उसने मुझे फ़्रेंड रिकवेस्ट भेजी और मैंने उसको 14त नोव 2014 को एड कर लिया और मुझे लगा कोई लड़का होगा फेंक नाम से लड़की की आइडी से चाट कर रहा है और एक दो दिन इसे ही चाट चलती है, 6त देख को मेरी हॉलिडे थी मैंने वैसे ही फ़ेसबुक ऑनलाइन करके भेता और उस टाइम वो भी ऑनलाइन आएगी, नेहा “ही साहिल” साहिल “ही” नेहा “आप पुणे में कहा से हो?” साहिल “मैं कॉरेगोआन पार्क से हूँ” नेहा “आप अपनी कोई फोटो शेयर करोगे” साहिल “अगर मुझे विश्वास हो जाए आप लड़की है तो डेफेनेट करूँगा नहीं तो नहीं” नेहा “अब मैं आपको विश्वास कैसे दिलौं”.

साहिल “एक मिनट फोन पर अपनी मीठी से आवाज़ में बात कर लो मुझे विश्वास हो जाएगा आप लड़की हो” नेहा “नहीं मैं फोन पर बात नहीं कर सख्ती” साहिल “ओके” नेहा “गिव में युवर नंबर ई विल कॉल यू लेटर” उसके बाद मैंने उसको अपना नंबर दे दिया पर उस दिन उसका कॉल नहीं आई और एक दो दिन तक भी उसकी कॉल नहीं आई, मुझे लगा वो भूल गयी या सिर्फ़ मजे लेने के लिया फोन किया था, 11त देख को शाम को एक अननोन नंबर से एक फोन आता है और जैसे ही मैं हेलो बोलता हूँ वहां से बहुत स्वीट अंदाज़ में, मैंने बोला “आप कोन बोल रही है” देन वो बोली “गेस करो कोन बोल रही है” मैंने गेस नहीं किया तो वो बोली “नेहा बोल रही है” उसके बाद उसने थोड़ी ढेर बात करी और मैंने उसको वेट्स आप पर फोटो भेज दी, अब रोज़ हमारी बात होने लगी पर अभी तक हम मिले नहीं थे, तो 23र्ड देख को उसने मुझे बोला की पार्टी के लिया कहा जा रहे हो, तो मैंने बोला की यार कोई साथ नहीं है और स्टॅग में क्या फायदा अगर कोई कंपनी होती तो चलता.

देन मैंने पूछा आप कहा जा रही हो तो वो भी मेरे साथ भी सही अगर कोई कंपनी होती तो जाती पर अब कैसे जाऊं, तो मैंने उसको बोला हम एक दूसरे को कंपनी दे सखते है तो उसने बोला सोच कर बत्यो पर एक दिन भी हमारी नॉर्मल बात होती है, अब साथ साथ हमारी नॉटी बातें भी होने लग गयी रेडर्गिंद सेक्स पर ज्यादा नहीं, तो उसने 29त को बोला आप मुझे कहा पर लेकर जयोगे तो मैं उस टाइम वेस्टिन में था तो मैं उसी टाइम बोल दिया कुएं बार (ये बहुत अच्छा डिस्को है पुणे में और कॉरेगोआन पार्क में भी) देन उसने बोला वो लेट हो जाएगी और पीके प्ग में भी नहीं जा सकती हूँ देन मैं बोला की मैं कॉरेगोआन पार्क में अकेला रहता हूँ अपने फ्लैट पर आप वहां पर रुक सख्ती है और थोड़े से दरमे करने के बाद वो मान गयी और मैंने सोचा तैयार है अब चुदने के लिया,

मज़ेदार सेक्स कहानियाँ

Back

1 COMMENT

LEAVE A REPLY