गर्लफ्रेंड की एसी चुदाई कभी नही की

0
13193

अभी मैं आपको एक सच्ची कहानी बताने जा रहा हूँ पहले मैं अपने आपको इंटरडियुस करा दम आपसे… मेरा नाम अभी है और मैं आगरा का रहने वाला हूँ मेरी गर्लफ्रेंड जिसके बारे में ये कहानी है वो भी आगरा की ही रहने वाली है उसका साइज 34 28 36 है जो की मुझे बहुत प्यारा लगता है मेरा लंड का साइज 7″ है और 3″ मोटा है ये बात दो साल पहले की है जब मैं भी आ विद आर्ट्स करता था आगरा से और गर्लफ्रेंड भी वही पे पढ़ती थी जिस दिन वो पहली बार कॉलेज में आई क्या बताऊं दोस्तों मेरा होश ही उड़ गये क्या सेक्सी चल थी यार जा वो चलती थी

तो उसका गान्ड देख के मन में करता था की उसके गांड को पकड़ के चोद दम उसका नाम सुनीता था कालेज के सारे लड़के उसके पे फिदा थे ऐसे ही उसे देखते देखते 5 महीने हो गये पर कुछ भी सुनीता के तरफ से रिप्लाइ नहीं आया फिर एक दिन मेरे कालेज और दूसरे कॉलेज से क्रिकेट मॅच होना था उस दिन मैं अपना की लेकर कालेज पहुँच तो देखा की सुनीता भी आई हुई थी और पूरा कालेज तो था ही मॅच देखने के लिए दोस्तों मैं क्रिकेट बहुत ही अच्छा खेलता हूँ और अपने कालेज टीम का ओपनर भी हूँ फिर उस दिन मॅच शुरू हुआ तो मॅच का पूरा मजा सारा कालेज ले रहा था उस दिन मैंने अकेले दम पे मॅच को जिताया तो उस दिन से सुनीता मेरे उप्पर फिदा हो गयी और फिर लाइन मरने लगी मैं कहा कम रहने वाला था मैं भी खूब लाइन मारी फिर एग्ज़ॅम के टाइम मैंने उसे प्रपोज किया तो एक्सेप्ट कर ली उस दिन मैं बहुत खुश था फिर हम दोनों की बात फोन पे होने लगी

फिर एक दिन मैं बोला की मुझे तुमसे मिलना है तो उसने बोला की ठीक है मेरे आंटी अंकल भैया के ससुराल जाएँगे उनके यहां शादी है तो भैया और भाभी भी नहीं रहेंगे कल तो मैं कॉल करूँगी तो आ जाना मैंने बोला ठीक है उस दिन तो मेरे मन में लड्डू फुट रहा था फिर अगले दिन मैं उसके फोन का इंतजार कर रहा था पर उस दिन कॉल नहीं आया मैं बहुत उदास बैठा हुआ था और बैठे बैठे नींद आ गई अगले सुबह ही उसका फोन आया की आंटी अंकल नहीं है आ जाओ घर पे मैं अकेली हूँ फिर मैं तुरंत रेडी होकर उसके घर पहुँचा और दूर बेल बजाई तो उसने दरवाजा खोला तो देख के उसको होश ही उड़ गया क्या लग रही थी यारो शादी पहनी हुई थी क्योंकि मैं पहले ही बोला था की शादी पहन लेना

फिर उसने मेरा वेलकम किया और मैं उसके घर के अंदर जाते ही उसका हाथ पकड़ के अपनी तरफ किंचा तो वो बोली की थोड़ा इंतजार तो करो इतनी भी जल्दी क्या है तो मैंने बोला की बस अब इतेज़र नहीं होता फिर मैं उसके गर्दन पे किस करने लगा तो वो मेरे बालों में अपना हाथ फेरने लगी तो मैं समझ गया की ग्रीन लाइट है फिर मैं उसके कानों में पूछा की क्या तुम वर्जिन हो तो वो धीरे से बोली की अब तुम खुद देख लेना फिर मैं उसके होठों पे अपना होंठ देख दिया और स्मूच करने लगा वो भी पूरा साथ दे रही थी फिर मैंने उसके कमर को पकड़ के पूरा दबोच लिया अब हम दोनों के बीच में से हवा भी पास नहीं हो पा रही थी

उसके बाद किस करते करते मैं उसके चूची को सहलाने लगा तो वो सिहर गयी और फिर मैं धीरे धीरे उसके चूची को दबाने लगा फिर उसको मैं पीछे की तरफ करके उसके गान्ड में अपना लंड रगड़ने लगा और हाथ आगे करके उसको चूची को खूब तेजी से मसल रहा था

मज़ेदार सेक्स कहानियाँ

फिर उसके शादी पल्लू मैंने हटा दिया और गर्दन के पीछे से किस करने लगा क्या मजा आ रहा था भाई क्या मस्त माल थी फिर मैंने उसको बेड पे लिटा दिया और उसके शादी को धीरे धीरे उप्पर करने लगा और उसके गोरे गोरे जांघों को खूब चूमने लगा फिर उसके नाभी को मैंने खूब चाहता उसपर थूक के चाहता और उसके बाद धीरे धीरे मैं उप्पर गया तो उसका ब्ल्ौज का स्तनों खोल रहा था तब उसने बोला अभी मुझे शर्म आ रही है मैं बोला की मुझसे क्या शरमाना और ब्लाउज को खोल दिया पिंक कलर का ब्रा पहनी हुई थी क्या मस्त चूची थी यार फिर पागलों की तरह उसके मसलने लगा वो अपने मुंह से बस आहह हह आह हह्ा हे हह आह हह की आवाज़ निकल रही थी

फिर मैंने उसको बोला की आज तो तेरी गांड भी मारूँगा वो बोली की जान आज मैं आपकी रंडी हूँ जो मन में आ रहा है वो करो फिर मैंने उसके शादी एक झटके में खोल दिया और पेटोक्ॉआट के उप्पर से ही उसके चुत को रगड़ने लगा उसके मुंह से चीख निकल गयी और उठ के मेरे सीने से लिपट गयी उसके बाद मैंने उसके होठों को स्मोच करना शुरू किया और धीरे धीरे नीचे लिटा के उसके पेटीकोट को खोलने लगा पर डोरी बहुत मजबूत थी तो उसने खुद खोला फिर पेटीकोट को अलग कर दिया और पैंटी के उप्पर से ही उसके ट को चाटने लगा वो मेरा सर पकड़ के दबा रही थी अपनी चुत पे और मुंह से केवल अहह अहह हह आह हह्ा हहह हह हे हह आह हह आह हह आह हह की आवाजें निकल रही थी मुझे भी उसकी आवाज़ सुन के बहुत मजा आ रहा था फिर थोड़ी देर बाद मैं अपना सारा कपड़ा निकल दिया और अपना लंड उसके मुंह के पास ले गया तो वो डर गयी की इतना बड़ा मैं नहीं ले पाऊंगी

फिर मैंने उसको समझाया तो वो धीरे धीरे मुंह खोली और मैं उसके मुंह में अपना लंड डाल दिया वो धीरे धीरे चूस रही थी तो जोश में अपना सारा लंड उसके मुंह में डालना चाहा तो कांप गयी और लंड को मुंह से निकल दिया फिर मैं एक दो बार बोला पर उसने मना कर दिया तो मैंने भी ज्यादा जिद नहीं की और उसका पैंटी को खोल दी तो उसके चुत पे हल्का हल्का बाल था तो जैसे ही मैं चुत चाटने के लिए झुका तो उसने मना कर दिया की उसको ये सब पसंद नहीं है तो मैंने उसके चुत पे अपना लंड को रगड़ने लगा तो वो बोली की धीरे से डालना आज मेरा पहली बार है मैं बोला की देखता हूँ और उसकी चुत बहुत ज्यादा गीली थी फिर मैंने एक झटका मारा और आधा लंड उसके चुत में चला गया और वो बहुत तड़पने लगी वो उप्पर की तरफ खिसक रही थी

तो मैं उसको काश के पकड़ लिया और एक झटका और मारा तो थोड़ा और चला गया वो रोने लगी बोली की अब निकल लो मैं अब बर्दाश्त नहीं कर सकती फिर मैं उसके होठों को चूसने लगा और धीरे धीरे अंदर बाहर करने लगा वो थोड़ी देर बाद थोड़ा शांत हुई और अपना गांड हिलने लगी तो मैं समझ गया की उसको मजा आ रहा है

फिर मैं उप्पर उठा तो देखा की मेरे लंड पे खून ही खून लगा हुआ था तो समझ गया की सील पैक माल है पर ये बात मैंने उसको नहीं बताई की वो डर जाएगी और मैं फिर से उसके उप्पर लेट गया और ज़ोर ज़ोर से चुदाई करने लगा उसके मुंह से केवल अहहा हाहः हह हह हह हहा हह हहहह हहहह हहा हह हहा हह की आवाज़ आ रही थी

और फिर मेरा गिरने वाला था तो मैंने बोला कहा गीरौ वो बोली की आप जहां चाहो तो मैंने बोला मैं तो तुम्हारे मुंह में गिरना चाहता हूँ तो वो बोली तहिक है मैं उसके मुंह में पूरा माल दे दिया वो मेरा पूरा माल पी गई और हम एक दूसरे के बांहों में लेट गये.

Content Protection by DMCA.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here