मेरी सेक्सी सिस्टर्स कजिन बहनों से रास लीला – Part – 127

0
10

था… अगर सही में माया बुआ इन्वॉल्व्ड है, तो ऐसा
हो ही नहीं सकता के ज्योति को ना पता हो… और अगर ज्योति को सब पता है तो क्या वो भी मेरे साथ खेल रही है… पूजा और ज्योति में से किसपे
विश्वास करूँ मुझे समाज नहीं आ रहा था… मैंने घड़ी देखी तो आधा घंटा हो चुका था मुझे नीचे आए हुए.. मैं तुरंत वहाँ से उठके
अपने रूम में गया जो बाहर से लॉक्ड था… मैंने जैसे ही दरवाजा खोला, सामने का नज़ारा देख के मेरी आँखें खुली की खुली रही गयी..
सर घूमने लगा..

ज्योति से हुए झगड़े के बाद, मैं लॉबी में बैठे बैठे ही अपनी सोच में डूब सा गया था.. मैं सोच रहा था, आँसू जो अपने सास ससुर के साथ
ऐसा बर्ताव कर सकती है, वो मेरे आंटी बाप के साथ क्या कुछ नहीं कर सकती… मैं सोच रहा था, ज्योति या पूजा, इन दोनों में से कौन सच्चा है,
कौन जूता है, मुझे उसकी परवाह नहीं, मुझे बस अपने आंटी बाप के बारे में सोचना था.. यही सब सोचते सोचते मैंने घड़ी की तरफ देखा तो
लॉबी में मुझे काफी देर हो गयी थी… मैं वहाँ से उठके अपने कमरे की तरफ बढ़ने लगा…. जैसे ही मैंने अपने कमरे का दरवाजा खोला, सामने
का नज़ारा देख के मेरी हालत खराब हो गयी…

“पूजा….. पूजा, क्या हुआ यह, पूजा, तुम्हारी यह हालत किसने की, पूजा जवाब दो…”

मेरे सामने पूजा बेहोश सी हालत में पड़ी थी.. उसके सर पे चोट थी जिसकी वजह से थोड़ा खून भी निकल रहा था… मैंने तुरंत रिसेप्षन पे
फोन करके डॉक्टर असिस्टेन्स मँगवाया.. कुछ देर में डॉक्टर पूजा का जरूरी ट्रीटमेंट करके चला गया, और हिदायत दी के पूजा को सख्त आराम की
जरूरत है… डॉक्टर से बातचीत करने पर पता चला के शायद पूजा का पैर कहीं फिसला होगा जिससे वो आगे की तरफ गिरी…. डॉक्टर के जाते ही
मैंने पूजा को ठीक से बेड पे लेटाया, और बाहर आकर सोफा पे बैठ गया… कुछ देर में जाकर फ्रेश हुआ, और चेक किया तो पूजा अब तक सो रही
थी… मैंने रूम सर्विस में फोन करके कुछ आर्डर कर दिया, ताकि पूजा कुछ खाके अच्छा महसूस करे… करीब 15 मिनट बाद पूजा की आँख धीरे
धीरे खुली..

“पूजा…. तुम ठीक हो… अभी कैसे महसूस कर रही हो…” मैं पूजा का हाथ पकड़ के उससे बातें करने लगा…

“उम्म्म…. सन्नी.. इसे, फ़ीलिंग बेटर नाउ…..” पूजा अभी भी बोलते वक्त थोड़ा खिचाव महसूस कर रही थी..

मज़ेदार सेक्स कहानियाँ

तभी दूर बेल बाजी.. मैंने जाकर देखा तो खाना आ चुका था…. पूजा और मैं खाना साथ में खाने बैठे

“उम्म…. वाउ, तुम्हें कैसे पता चला नूडल्स इस में फेव” पूजा ने खाते खाते मुझसे सवाल पूछा

“तुम मेरे बारे में इतना कुछ जान सकती हो तो, मैं भी तो कुछ जान ही सकता हूँ… अच्छा, अब बताओ, तुम्हें क्या हुआ था, तुम्हारा पर कहाँ फिसला,
जो अचानक इतनी चोट लगी तुम्हें.” मैंने पूजा से पूछा

पूजा:- पर कहीं फिसला नहीं सन्नी.. मैं नहा के बाहर निकली तब देखा तुम कहीं नहीं थे, मैंने दरवाजा की तरफ देखा तो वो भी लॉक्ड था,
मैं अपने पुराने कपड़े ही पहनने लगी, तभी अचानक मुझे ऐसा लगा के कोई है मेरे अलावा इस कमरे में… जैसे तैसे करके मैं कपड़े पहनें फिर
बाहर आई और जैसे ही मैं सोफा की तरफ बढ़ी, तभी अचानक मुझे ऐसा लगा किसी ने मुझे पीछे से ज़ोर का धक्का दिया हो… मैं अपने आप को
संभाल ना पाई और जाकर फ्लवर वास से टकरा गयी… आपने देखा नहीं वास भी गिरा हुआ था जब आए अंदर…

पूजा की यह बात सुनकर मेरी तो जैसे सिट्टी बिट्टी गुल हो गयी… मेरे हाथ से चॉप स्टिक्स गिर गयी और मैं बाहर मैं हॉल की तरफ दौड़ा, जाकर
देखा तो अभी तक वास वहीं गिरा हुआ पड़ा था… मैं डीटेक्टिव तो हूँ नहीं, पर हॉल के इधर उधर देखने लगा, ढूंढ़ने लगा के अगर कोई आया
भी तो कहाँ से आया… हॉल के बाहर एक बालकनी थी जो रोड व्यू थी… पर हमारा रूम 20त फ़्लोर पे था, कोई इतना ऊपर इतनी रिस्क लेकर कैसे आएगा..

“क्या हुआ सन्नी.. किसे ढूँढ रहे हैं आप..” मेरे पीछे पीछे आई पूजा ने मुझसे सवाल किया

“पूजा.. कोई यहाँ कैसे आ सकता है, रूम की चाबी मेरे पास थी, और हम 20त फ़्लोर पे हैं, कोई बालकनी से कैसे आएगा इतनी रिस्क लेकर..” मैं
रूम में इधर उधर देखता और पूजा से सवाल किया

पूजा:- सन्नी प्लीज़ रिलॅक्स कीजिए… मैं आपको बोल चुकी हूँ के मुझे ऐसा लगा, अब शुरू नहीं हूँ, हो सकता है कहीं मेरा पर अटक गया हो जिससे
मेरा बैलेन्स बिगड़ा हो… आप प्लीज़ आराम से बेठीये और खाना खत्म कीजिए..” पूजा इतना कहकर मैं हॉल में ही खाना ले आई

खाना खाते वक्त भी मेरे….

मेरी सेक्सी सिस्टर्स – कजिन बहनों से रास लीला

मेरी सेक्सी सिस्टर्स कजिन बहनों से रास लीला – Part – 1 >>
Content Protection by DMCA.com

LEAVE A REPLY