मेरी सेक्सी सिस्टर्स कजिन बहनों से रास लीला – Part – 128

0
10

दिमाग को चेन नहीं मिल रहा था, दिमाग में हज़ार बातें घूम रही थी.. इतने में मेरे मोबाइल पे ज्योति का एसएमएस आया

“शी इस लाइयिंग भाई.. डोंट ट्रस्ट हेयर”

मैंने उसे तुरंत रिप्लाइ किया

“इन नो स्टेट ऑफ माइंड ई कॅन डिसकशन तीस नाउ.. मीट यू ओवर ड्रिंक्स लेटर”

“किसका मेसेज है सन्नी…” पूजा ने मुझसे पूछा

मैं:- ज्योति का है, तुम विश्वास नहीं करोगी, पर उसने हमें हॅपी जर्नी विश किया है..

“उसकी किस बात पे विश्वास करे, किसपे नहीं, मुझे पता नहीं चलता… खैर, आपको अब पता चला है के उसकी आंटी ही इसमें सब कुछ कर रही है,
आपने उसके साथ डिसकशन किया है कुछ ?” पूजा ने सवाल पूछना जारी रखा

“इसमें क्या डिसकशन करने जैसा है… पता लगाना पड़ेगा सब कुछ, ऐसे ही मैं कुछ बोलूं और वो गलत साबित हुआ तो.. वो मेरी बुआ है”

पूजा:- गलत नहीं है सन्नी, आपको मुझपर विश्वास तो है ना

मैं:- हाँ पूजा.. मुझे तुमपे विश्वास है, अच्छा तुम बताओ, तुम्हारे पास कोई सबूत है जिससे हम साबित कर सकें के यह सब करने के पीछे मेरी
बुआ का दिमाग है

पूजा:- सन्नी, सबूत होता तो आज हमारी हालत ऐसी नहीं होती… और सॉरी, मैं आपसे इतने सवाल पूछ रही हूँ.. भूल गयी थी, के मुझसे ज्यादा मानसिक तनाव में आप हैं..

“मैं ठीक हूँ पूजा…. बस यह गूती सुलझ जाए…लाइफ ईज़ी है फिर तो…” मैं निराश सा साउंड कर रहा था

“कोई प्राब्लम नहीं है…यह गूती क्या, इससे बड़ी मुश्किल भी आएगी ना…मैं आपका साथ नहीं छोड़ूँगी, किसी भी मुसीबत को आप तक पहुँचने के लिए, पहले मुझ पर से गुजरना पड़ेगा…” कहते कहते पूजा मेरे पास आई और मेरा हाथ पकड़ लिया…

कुछ देर तक मैं और पूजा युहीन एक दूसरे की आँखों में देखते रहे.. एक अजीब सी खामोशी थी उस वक्त हम दोनों के बीच..इतना सन्नाटा, शायद किसी बारे तूफान का इशारा कर रहा था.

“युहीन देखते रहेंगे, या कुछ करने का इरादा भी है आपका” पूजा ने खुद को मेरी बाहों में समर्पित करके कहा…

मैं धीरे से उसकी कमर पे हाथ घूमने लगा, उसकी गर्दन के पास अपने होंठ ले गया…और उसे कहा

“चलो..साइट सीयिंग पे चलते हैं”

यह सुनकर जैसे पूजा ने आँखें खोली, उसकी शकल देख के मेरी हँसी बाँध ही नहीं हो रही थी… कुछ देर तक हम दोनों वहीं बैठे बैठे मज़ाक करने लगे, फिर तैयार होकर होटल की कॅब से ही आस पास में साइट्स देखने चले गये… कुछ देर में सूरज भी ढाल गया और हम लोग एक रेस्तरां में खाना खाने बैठ गये… कुछ देर में मैंने भी घर पे फोन करके हाल चाल शेयर किया और वापस पूजा को टेबल पे जाय्न कर लिया.. जैसे ही मैं टेबल पे बैठा, पीछे से एक आवाज़ ने पूजा और मुझे चौंका दिया

मज़ेदार सेक्स कहानियाँ

“एक्सक्यूस में… थ्री सिंगल माल्ट, ऑन थे रॉक्स प्लीज़” इतना कहकर ज्योति मेरे साथ टेबल पे आकर बैठ गयी…
पूजा ने तो क्या, मैंने भी ज्योति को वहाँ एक्सपेक्ट नहीं किया था…

“हेलो भाई, लव्ली सर्प्राइज़ ना” ज्योति मेरे सामने और पूजा के साथ वाली चेयर पे बैठी हुई बोली.

“ओफ्कोर्स स्वतर्त..वॉट ब्रिंग्स यू हियर हाँ, तू हमारे साथ नहीं आई, और अकेले इधर, शॉकिंग हाँ”

“उम्म्म…हम तो ऐसे ही हैं भाई…. ऊप्स !!! सॉरी, भाभी, मैंने तो आपको देखा ही नहीं, क्या हाल है आपका हाँ, और क्या बात है, नाइस चाय्स ऑफ ड्रेस हाँ, परफेक्ट फॉर थे ईव” ज्योति ने पूजा को ताना मरते हुए कहा….

उस वक्त जहाँ ज्योति ने एक सिंगल पीस गाउन पहना था ब्लैक कलर का बॅकलेस, आस यूषुयल, शी वाज़ अट हेयर बेस्ट… दूसरी तरफ पूजा सिंपल जीन और टॉप में थी, और उसके बाल खुले हुए थे…

“थॅंक्स ज्योति.. और यह क्या, तुमने आस यूषुयल वही ड्रेस…चेंज थे वॉर्डरोब बेब… हॅव आ चाय्स” पूजा ने ठान ली थी वो ज्योति के दबाव में नहीं आएगी…

इससे पहले ज्योति कुछ जवाब देती, हमारा सिंगल माल्ट स्कॉच का आर्डर आ चुका था…

“तो थे लव्लियेस्ट ब्रदर इन थे वर्ल्ड…रेज़ आ टोस्ट भाई… और तो थे बीतचिएस्ट सिस इन लॉ…” ज्योति ने यह कहकर अपने पेग का बॉटम्स उप कर डाला…

पूजा को यह बिलकुल अच्छा नहीं लगा,

“ज्योति…एक चॅलेंज हो जाए” पूजा ने ज्योति को देखते हुए कहा..

“आक्सेप्टेड में लॉर्ड…तुम्हारा हर चॅलेंज मुझे मंजूर है… आज हो जाए, देखते हैं किसमे है दम..” ज्योति चिल्लाने लगी…

“तो ठीक है… जो सबसे ज्यादा स्कॉच के पेग खत्म करेगा वो विन्नर… और विन्नर कॅन अस्क थे लूज़र तो दो एनितिंग…” पूजा ने एनितिंग पे इतना ज़ोर डाला, मुझे डर लगने लगा था…

“पूजा, प्लीज़ डोंट दो तीस ओके… तुम ज्योति को नहीं जानती… वो तो पैदा ही सिंगल माल्ट में हुई है… उसने अपने मुंह से पहला शब्द आंटी या पा नहीं, स्कॉच कहा था, तुम जानती नहीं हो उसकी केपॅसिटी….

मेरी सेक्सी सिस्टर्स – कजिन बहनों से रास लीला

मेरी सेक्सी सिस्टर्स कजिन बहनों से रास लीला – Part – 1 >>
Content Protection by DMCA.com

LEAVE A REPLY