Nisha Ne Apni Behen Ko Papa Ke Doston Se Milkar Chudvaya

1
10035

Nisha Ne Apni Behen Ko Papa Ke Doston Se Milkar Chudvaya

Characters:नीलम: निशा की 18 साल की चचेरी बहन
अजीत: निशा के अंकल का खास दोस्त. 38 साल.
अनूप: अजीत का चाचा. 54 साल.
सोनू: अजीत का भाई. 34 साल.
रोहित: अनूप का बेटा. 30 साल.

अजीत अंकल और उनके दोस्तों से रात भर जोरदार चुदाई के बाद निशा की चुत सूज कर लाल हो गयी थी. चून्स चून्स कर उसकी निप्पल और मम्मे एक ही रात में और भी बारे हो गये थे. पर उसके दिल और दिमाग में काम की ज्वाला और भी तेजी से जल रही थी. रात भर मर्दों की रंडी बनने के बाद, निशा अपने मान से उनकी गंदी हरकतों को हटा नहीं पा रही थी. ‘अयाया… बस एक बार और ऐसी चुदाई हो जाए!’ निशा ने सोचा.

घर पर वो बिस्तर पर लेटकर आराम कर रही थी, की फोन की घंटी बाजी.

‘अरे नीलम, कैसी हो? आंटी अंकल तो गाँव गये हैं. और तू सुना, उस लड़के से कोई बात बनी??’

नीलम निशा की चचेरी बहन ही नहीं, उसकी खास दोस्त भी थी. और दोनों लड़कियों का दिमाग भी एक सा ही था – गंदा. नीलम निशा के सारे दोस्तों की कहानी जानती थी. जब भी कोई लड़का उसे पेड़ के पीछे लेकर चोदता, या अजीत उसे घर पर बुलाकर गंदी पिक्चर दिखाकर ठोकता… या फिर जब कोई टीचर उसके बॉल दबाता… या कॉलेज के प्रिन्सिपल निशा को अपने बंद कमरे में अपनी गोद में बिठाकर उसकी चड्डी में हाथ डालते, निशा नीलम को मजे से सारी दास्तान सुनती.

पर जब निशा ने उसे कल रात के बारे में बताया, तो नीलम दंग रही गयी.

‘तुम्हें दर्द नहीं हुआ दीदी??’ नीलम ने अचंभे से पूछा.

‘हाँ, पर वो दर्द बहुत मीठा होता हैं. एक बार तुम्हें भी ट्राइ करना चाहिए’.

‘अरे, मुझे कौन देखेगा दीदी. आपके जैसा बदन थोड़ी हैं मेरे पास. आपकी छाती की साइज से ही मर्दों के मुंह में पानी आ जाता हैं. मेरा क्या हैं?? मुझे तो आज तक किसी मर्द ने नंगा भी नहीं किया’, नीलम उदास हो कर बोली.

‘तो एक काम करो ना नीलम, यहां मेरे साथ रहने आ जाओ. तुम्हारी यह शिकायत भी दूर कर देंगे!’

निशा ने अजीत को फोन पर यह सब बात बताई. अजीत के मुंह में पानी आ गया. निशा जैसी बेशहमार रंडी और उसकी जवान कुँवारी बहन… अयाया!!

नीलम का दिल तेजी से धड़क रहा था. कैन बार वो निशा के साथ बैठ कर गंदी पिक्चर देख चुकी थी. पर उसका बदन निशा की तरह खूबसूरत नहीं था. जहाँ एक तरफ निशा के मम्मे बारे बारे गुब्बारों की तरह उसकी छाती से लटकते थे, नीलम की छाती में कोई खास बात नहीं थी. 32सी की ब्रा का साइज उसकी कई सहेलियों से बड़ा था, पर निशा के सामने वो फीकी पड़ जाती थी. पर खूबसूरती में दोनों बहने समान थी. गोरा रंग, लंबे बॉल, मटकती चाल, आँख में मस्ती… बस एक के होल में कैन जा चुके थे, तो दूसरी का होल अब तक ढीला नहीं हुआ था.

अजीत निशा और नीलम को अनूप चाचा के फार्महाउस पर ले गया.

मज़ेदार सेक्स कहानियाँ

‘कुँवारी को ज़ोर से हम सब ने चोद तो चिल्ला चिल्ला के सारी बिल्डिंग को जगा देगी. फार्महाउस पर जोरदार चुदाई हुई तो चीख कौन सुनेगा??’
अरे मान गये चाचा! अजीत हस्ते हस्ते बोला.

‘बहुत डर लग रहा हैं दीदी’ नीलम घबराते हुए बोली.

‘अरे बहुत मजा आएगा यार. तुम बस मुझे देखती जाओ.. जैसा मैं और अजीत अंकल कहे वैसे ही करना. पहली बार सबके सामने थोड़ी शर्म आएगी, पर मैं तुम्हें संभाल लूगी’ निशा ने नीलम के कंधों पर हाथ रखकर उसे कहा.

बंगले में अनूप चाचा, सोनू और रोहित शराब पी रहे थे. अजीत ने सबका इंट्रोडक्षन दिया.

निशा ने नीलम का टॉप उतरा. नीलम शर्मा के लाल हो रही थी.

रोहित बोला – अरे इतने में ही शर्मा रही हो बेबी. सब उतार जाएगा तब कितना शरमाओगी.

यह कहते हुए रोहित ने निशा का टॉप उतार दिया.

हाथ साली! अनूप बोला… क्या बॉल हैं… बहुतों से चूज़ हुए लगते हैं. अजीत हंसते हंसते बोला… 9-10 मर्द घुसा चुके हैं.

निशा मुस्कराई और उसने नीलम की ब्रा खोल दी. नीलम शर्मा कर अपने हाथों से अपने छोते छोते मम्मों को ढकने लगी. निशा ने नीलम के होठों को चूमा और कहा… ष्ह… शर्माओ मत. अपना बदन मेरे हवाले कर दो. नीलम ने अपने हाथ हटाए और निशा ने उसके मुममे को अपने हाथों में लिया. नीलम की आँखें बंद थी… वो तितली की तरह हड़बड़ाने लगी. निशा ने आते की तरह नीलम के दोनों बॉल को गोंडा. फिर अपनी उंगलियों के बीच उसकी निप्पल को लेकर उसके मुममे को हिलाया.

अयाया…. नीलम करहाय.

निशा ने उसके मुममे को चून्सना शुरू किया. पहले धीरे से, फिर जोरों से हूँ छू की आवाज़ करके निशा ने भूखे और प्यासे बच्चे की तरह निप्पल को चूँसा. नीलम की चुत में से चिकना पानी बहने लगा.

‘अब मेरी ब्रा खोलकर मुझे भी ऐसे ही चूँसो’

जैसे ही नीलम ने निशा की ब्रा खोली, अनूप, सोनुआ और रोहित दंग रही गये. 18 साल की लड़की की छाती इतनी बड़ी?? नीलम भी निशा की छाती देखकर दंग रही गयी. उसने निशा को पहले कभी नंगा नहीं देखा था.

‘क्या देख रही हो? चूँसा ना रानी…’

नीलम ने निशा के मुममे को चून्सना शुरू किया. निशा के बदन में सेक्स भरने लगा. अपनी जीभ को होठों पर फिरते निशा सब मर्दों को गंदे इशारे करने लगी. फिर उसने नीलम की चड्डी उतरी और उसकी चुत को चाटना शुरू किया.

नीलम की गोटी सूज कर उभर रही थी और निशा अपनी जीभ से उसकी गोटी को हिला रही थी.

फिर वो ज़मीन पर पैर फैला कर लेट गयी और नीलम ने उसकी चुत के होठों को खोला. अब तुम्हारी जीभ मेरे चुड़े हुए होल में डालो और चून्स चून्स कर मेरा पानी पियो रानी.

चारों मर्द सोफे पर बैठकर यह नज़ारा मजे से देख रहे थे.

फिर निशा अनूप चाचा की गोद में सवार होकर अपने मुममे को उसके होठों के करीब लाकर बोली – चूँसों ना अंकल.
आगे की कहानी बहुत जल्द.
निशा ने अपनी बहन को अंकल के दोस्तों से मिलकर चुदवाया

Content Protection by DMCA.com

1 COMMENT

LEAVE A REPLY