तापसी पन्नू की चुदाई – Taapsee Pannu Sex Story – 10

0
4828

तापसी पन्नू की चुदाई – Taapsee Pannu Sex Story – 10
“ऊऊऊऊऊऊऊऊहहुउऊुुुुुुुुुुुुउउम्म्म्मममममममममममममममम” रेणु ने एक धीमी से मादक सिसकारी भारी. दूसरे धक्के के साथ मैंने पूरा लंड अंदर डाल दिया था. इसके बाद चुदाई का जो तूफान आया वो तभी थमा जब मैंने अपना वीर्य रेणु की चुत में भर दिया. चुदाई के बाद हम दोनों ने जल्दी से अपने कडपे ठीक किए. “विक्की, आज का दिन मैं कभी नहीं भूलूगी.” हम बाहर लॉन में आ गये थे. बाहर पड़ी चेयर पर बैठ-ते हुए मैंने कहा “मैं भी कभी नहीं भूलूगा. यू नो यू हॅव गॉट आ वेरी सेक्सी और लव्ली फिगर.” हम दोनों ऐसी ही रोमॅंटिक बातें कर रहे थे तभी रेणु का पति बबलू आ गया. उनकी कार ठीक हो गयी थी. बबलू ने मेरा शुक्रिया किया और फिर वो दोनों चले गये. जाने से पहले रेणु मुझे अपना पर्सनल नो. और अड्रेस दे गयी. रेणु के जाने के बाद मेरा ध्यान वापस तापसी पर गया. कल तापसी का बर्तडे था और मैंने रात 12 बजे तापसी को सर्प्राइज़ देने की तैयारी शुरू कर दी.

मैं गाड़ी लेकर निकल गया. पास के टाउन से बर्तडे केक और बाकी समान ले आया. तापसी कल पूरी रात सोई नहीं थी सो तापसी को जल्दी उतना था नहीं. मैंने स्विम्मिंग पूल के साइड में पार्टी की पूरी तैयारी की. सारी सजावट करने के बाद मैंने टाइम देखा तो 11:30 बज चुके थे. मैंने नहाने का सोचा. 20 मिनट में ही मैं नहा कर तैयार हो गया. अब टाइम आ चुका था तापसी को जगाने का. तापसी जिस रूम में सोई थी, मैं वहां पहुंचा. तापसी अभी भी भी-सुध सो रही थी. सोने से पहले तापसी ने जीन्स उतार दिया था और इस वक्त तापसी सिफ्र टॉप और पैंटी पहने सो रही थी. तापसी की सुडौल झांघो और मस्त गान्ड को देखता हुआ मैं तापसी के पास पहुंचा. जाते ही मैंने अपने होंठ तापसी के होठों पर रख दिए और धीरे धीरे चूमने लगा. ऐसा करते ही तापसी की नींद खुल गयी और वो भी किस करने में मेरा साथ देने लगी. किस करते करते ही तापसी ने अपनी दोनों टांगे मेरी कमर पर लपेट दी. मैंने तापसी की गान्ड पर हाथ लगा कर तापसी को अपनी गोद में उठा लिया. तापसी की बाहे मेरी गर्दन पर लिपटी हुई थी और मैं तापसी को किस करते हुए बाहर पूल के पास जाने लगा. पूल के पास पहुंच कर मैंने कहा “तापसी, पीछे देखो”. तापसी ने किस रोक दी और गर्दन घुमा कर पीछे देखा. “हॅपी बर्तडे माय डियर सिस्टर” मैंने कहा. “तुउँहे याद था?” तापसी ने प्यार से कहा. “हां” मैंने कहा. “ई लव यू में लव्ली भाई” तापसी ने कहा और एक बार फिर मुझसे चिपक गयी और मेरे होंठ चूमने लगी. “तापसी, चलो पहले केक काट लो” मैंने कहा. इसके बाद तापसी ने केक कटा और जैसे ही तापसी ने मुझे केक खिलाने को हाथ बढ़ाया मैंने केक तापसी के हाथ से छिन कर उनके पूरे फेस पर लगा दिया. तापसी ने भी सेम ऐसा ही किया और अब हम दोनों के फेस पर केक लगा हुआ. हम दोनों ने एक-दूसरे के फेस पर लगे केक को चाट कर साफ किया. “विक्की, ई लव यू. आज हम दोनों रात भर प्यार करेगे” तापसी ने रोमॅंटिक होते हुए कहा. “विक्की, ई नो यू लव में गान्ड. आज रात तुम्हें जो करना है करो, मैं तुम्हें रोकूगी नहीं”.

मैंने तापसी को ज़ोर से अपनी बाँहों में जकड़ लिया और प्यार से तापसी के चेहरे पर चूमने लगा. “विक्की, तुम तो बहुत आक्साइड हो रहे हो अभी से” तापसी ने खुद को मुझ से अलग करते हुए कहा. ” तापसी तुम्हारी जैसी हुसनपरी सामने खड़ी हो तो भला कोन एक्साइड नहीं होगा?” मैंने जवाब दिया. इसके बाद हम दोनों चेयर्स पर बैठ गये. मैंने बियर की बॉटल खोली और 2 ग्लाशस में निकाल लिया. बियर पीने के बाद तापसी अपनी चेयर से उठ कर मेरे पास गयी. मेरे दोनों तरफ टांगे फैला कर तापसी मेरे जाँघ पर अपनी गान्ड टीका कर बैठ गयी. इसके बाद हम दोनों एक बार फिर से एक दूसरे को चूमने लगे. मस्ती में तापसी ने अपनी जीभ मेरे मुंह में डाल दी, जिसे मैं बारे प्यार से चूसने लगा. काफी देर तक एक दूसरे को चूमने के बाद मैंने तापसी के शानदार चुचियों के तरफ रुख किया. लेकिन तापसी का टॉप हमारे बीच बाधा बन रहा था. मैंने तापसी का टॉप पकड़ कर ऊपर उठा दिया और तापसी ने हाथ ऊपर कर टॉप निकालने में मेरी हेल्प की. तापसी के उन्नत बूब्स मेरे सामने थे क्योंकि तापसी ने ब्रा नहीं पहनी हुई थी. मैं बड़ी बड़ी से तापसी के दोनों निपल्स को चूसने लगा. जब मैं दाएँ निप्पल को चूसता तो बाए निप्पल को हाथों से सहलाता रहता और जब बाए निप्पल को चूसता तो दाएँ वाले को हाथ से सहलाता. कभी मैं तापसी के निप्पल चूसता तो कभी तापसी की चुचियों पर हल्के से दाँत गाड़ा देता. तापसी के मुंह से लगातार मादक सिसकियां निकल रही थी. “उम्म्म्ममम अहह ऊऊऊऊऊ हमम्म्ममम:. तापसी के बूब्स बहुत ही सेन्सिटिव थे. लगातार बूब्स चूसे जाने के कारण तापसी की हालत खराब होने लगी. तापसी ने मेरा सर पकड़ कर ज़ोर से अपने बूब्स के तरफ दबाने लगी. “ऊऊऊऊहह विक्की ई आम कॉमिंगगगगगगगगगगगगगगगगगगगगगगगगगगगगग” कहते हुए तापसी झड़ने लगी. झाड़ते वक्त तापसी ने मुझे ज़ोर से हग कर लिया. तापसी के कड़े निप्पल मेरे सीने पर चुभ रहे थे और नीचे तापसी की गीली पैंटी मेरी जाँघ से रगड़ रही थी. जब तापसी नॉर्मल हुई तो अपनी नशीली आंखें खोल कर मेरे तरफ देखा. तापसी की आंखों से सेक्स की प्यास साफ दिख रही थी. “विक्की, यू सक वेरी वाले” तापसी ने मस्ती में कहा. “तापसी आपको अपना प्रॉमिस याद है ना?” मैंने तापसी को गान्ड मारने के प्रॉमिस को याद दिलाते हुए कहा. “हां, अंदर बेडरूम में करोगे या यहां बाहर?” तापसी ने कहा. “बेडरूम में नहीं आज यहां खुले आसमान के नीचे आपकी गान्ड का उद्घाटन करूंगा, आप चेयर पर आराम से बैठ जाओ, मैं अभी आता हूँ” कह कर मैं अंदर चला गया.

जब मैं वापस आया तो मेरे हाथ में एक चादर, पिल्लो और एक क्रीम थी. मैंने स्विम्मिंग पूल के साइड में चादर बिछाया और तापसी को आने का इशारा किया. “आप डॉगी पोज़ में आ जाओ” मैंने तापसी से कहा. तापसी तुरंत ही डॉगी पोज़ में हो गयी. तापसी ने अपनी गीली पैंटी भी उतार दी थी और इस वक्त तापसी मेरे सामने पूरी नंगी थी. मैंने तापसी के गान्ड को अपनों हाथों में पकड़ कर थोड़ा फैलाया. मेरे ऐसा करने से तापसी की गान्ड का भूरा छेद और भी खुल कर मेरे सामने आ गया. मैंने झुक कर उसे किस किया. किस करने के बाद मैंने क्रीम की ट्यूब का ढक्कन खोल कर उसका मुंह तापसी की गान्ड में लगा कर आधी क्रीम तापसी की गान्ड में भर दी. तापसी की गान्ड में क्रीम भरने के बाद मैंने बाकी बची क्रीम को अपने लंड पर लगाया. तैयारी पूरी हो चुकी थी. “तापसी, तुम तैयार हो ना?” मैंने पूछा. “ये ई’में रेडी, लेट्स स्टार्ट” तापसी ने जोश में जवाब दिया. मैंने अपने लंड को तापसी की गान्ड के छेद पर सेट किया. एक हाथ से मैंने लंड पकड़ा हुआ था और दूसरा हाथ सहारे के लिए तापसी की गान्ड पर रखा हुआ था. तापसी की अनुमति मिलते ही मैंने धीरे धीरे लंड को अंदर डालने शुरू किया. क्रीम लगे होने के कारण लंड का टोपा आसानी से गान्ड में आधा फँस गया. इसके बाद मैंने अपना दूसरा हाथ भी तापसी की गान्ड पर टीकाया और एक ज़ोर का धक्का मर दिया. “ऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊऊहह” तापसी की चीख पूरे फार्महाउस में गूँज उठी. दर्द के मारे तापसी का बुरा हाल था. तापसी ने पिल्लो को ज़ोर से पकड़ लिया और अपना सर उस पिल्लो पर रख दिया. मैं झुक कर तापसी की पीठ पर चूमने लगा. थोड़ी देर में जब मुझे लगा की तापसी नॉर्मल हो गयी है तो मैंने दूसरा धक्का मारा. इस धक्के के साथ पूरा लंड अंदर घुस गया. “आआआआआआआआआआआआआआआअहह” एक बार फिर तापसी की चीख निकल गयी. लेकिन इस बार पहले वाली से थोड़ी धीमी. थोड़े देर मैं ऐसे ही रुका रहा. एक बार फिर जब तापसी थोड़ा नॉर्मल हुई तो मैंने धीरे धीरे लंड हिलाना शुरू कर दिया. तापसी को बहुत ज्यादा दर्द हो रहा था लेकिन फिर भी वो मेरी खुशी की खातिर इस दर्द को सह रही थी. तापसी की गान्ड बहुत ज्यादा टाइट थी और मैं ज्यादा देर रुक नहीं सका और 5-6 मिनट में ही अपना पानी छोड दिया. इसके बाद मैं तापसी के बगल में लेट गया और हम दोनों भाई बहन वैसे ही नंगे एक दूसरे से चिपक कर सो गये. सुबह मुझे तापसी ने जगाया. “तापसी, सोने दो ना” मैंने कहा. “भूल गये क्या? आज हमें वापस घर जाना है. हनीमून इस ओवर में भाई”तापसी ने कहा. इसके बाद हम दोनों वापस जाने के लिए तैयार हो गये. सारा सामान गाड़ी में डाल कर हम वापस चल दिए. तापसी के साथ बिताए पिछले 7 दिन मेरी जिंदगी के सबसे यादगार 7 दिन थे.

तापसी पन्नू की चुदाई – Taapsee Pannu Sex Story – 10

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here