दोस्त की बेहन के साथ सुहागरात

2
5564

1दोस्त की बहन के साथ सुहागरात dost Ki Bahen Indian Suhaagraat Story – Part – 1

हेलो मेरा नाम राज है. मेरी उमर 30 साल है. उसे समय मेरी उमर 20 साल होगी और दोस्त की बहन जिसका नाम प्रीत था, उसकी उमर 19 साल थी. उसे समय मेरे मन में उसके लिए कभी ऐसा ख्याल नहीं आया था. मैंने उसे अपनी बहन की तरह हे मानता था. हमारा घर अगल-बगल में होने की वजह से झट  से सब साफ दिखता है. एक दिन में झट पर किसी काम से हैरान रही गया.. वहां प्रीत पूरी नंगी हो कर नहा रही थी. शायद उसके घर में कोई नहीं था. में काफी देर तक, में उसे नहाते हुए देखता रहा पर उसकी नज़र मेरे ऊपर पड़ गयी.

में तो उसे समय डर हे गया था की कही उसने घर पर किसी को बता दिया तो क्या होगा और जल्दी से में झट से नीचे आ गया. मेरे दिमाग से वो पल जा हे नहीं रहा था की मैंने उसे नंगी नहाते हुए देखा था. उसके छोटे-छोटे नींबू जैसे बूब्स और बिना बालों वाली चुत और उसका गोरा और चिकना मस्त बदन को याद कर के मेरा लंड खड़ा हो गया. फिर में बाथरूम में गया और बहुत देर तक मूठ मारी. बहुत बार मूठ मरने के बाद भी में उसे पल को  भूल नहीं पाया. एक दिन जब उसके घर पर कोई नहीं था. तब में वहां गया और इधर- उधर की बातें करने लगा. शायद वॉक आम उमर होने की वजह से वो बात भूल गयी थी. पर मुझ पर तो हवस का बहुत चढ़ा था. मैंने बातें करते- करते अपना लंड बाहर निकल लिया और ऐसे हे बैठे हुए हुए बात करने लगा.वो थोड़ी घबरा गयी और दूसरे कमरे में जाने लगी.

मैंने उसका हाथ पकड़ा और बोला- प्रीत थोड़ी देर यही बैठे रहो. में कुछ नहीं करूँगा. तुमको हाथ भी नहीं लगाऊंगा. बस मेरे पास बैठ जाओ. वो घबराती हुई, मेरे पास बैठ गयी. उसे समय भी मेरा लंड बाहर हे था. और बातें करते-करते, मैंने अपनी पेंट उतार दे. और उसके बगल में बैठ कर मूठ मरता रहा. मुझे बहुत हे अच्छा लग रहा था. उसके लिए यह सब नया था पर शायद उसे भी अच्छा लग रहा था. बस थोड़ा घबरा रही थी. फिर मैंने उसका हाथ पकड़ कर अपने लंड पर रख दिया. उसने अपनी आंखें बंद कर ली और लंड को ज़ोर से पकड़ लिया. धीरे- धीरे वो उसको सहलाने लगी. क्या बताऊं यारो… क्या मस्त एहसास था ओ, जब वो अपने कोमल हाथों से मेरे लंड के साथ खेल रही थी. बहुत मजा आ रहा था. उसने मेरे लंड अपने दोनों हाथों से पकड़ा हुआ था और मेरे लंड को मसल रही थी.

हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे और किस करते हुए वो मेरा लंड सहला रही थी और में उसकी टी-शर्ट के अंदर हाथ डाल कर उसके दूध दबा रहा था. हम दोनों बस शांत हो के एक दूसरे के शरीर से खेल रहे थे. फिर मैंने उसकी फ्रॉक के अंदर हाथ डाला और उंगली उसकी चुत में डाल कर सहलाने काग़ा. धीरे से उसकी पेंटी नीचे की और बोला की मुझे तुम्हारी चुत चटनी है. वो शर्मा गयी. मैंने उसकी टांगे फैलाई और चुत को चाटने लगा वो तड़प रही थी. फिर हम अलग हुए और अपने कपड़े पहने और एक- दूसरे से चिपक के बैठ गये और वो रोने लगी. फिर मैंने उसे शांत  करवाया और भरोसे में लिया की किसी को कुछ नहीं बताना. उसके बाद में घर चला गया. बड़ा अच्छा- अच्छा सा महसूस हो रहा था. उसको भी मेरा एहसास अच्छा लगा था.

फिर हमें जब भी मौका मिलता यह सब करते और एक दूसरे को खुश रखते . हमें तो बस मौका चाहिए था मुझे करने का. इसे दे काफी टाइम निकल गया. हमें जितना मौका मिलता हम मुझे करते थे. लेकिन कभी पूरा कुछ करने का मौका नहीं मिल पाया. एक बार दिल्ली में उसे कोई एंट्रेन्स एग्ज़ॅम देने जाना था. उसकी मम्मी ने मुझे उसके साथ दिल्ली जाने के लिए बोला क्योंकि उसका भाई बाहर जॉब करता था. मैंने भी सोचा आख़िर चोदने का मौका मिल हे गया और मैंने हां भी कर दी. हम दोनों ने रिज़र्वेशन करवा लिया. पर साथ में उसके साथ के लड़कियां भी अपने भाइयों के साथ उसी ट्रेन में जा रही थी.

ट्रेन में तो कुछ भी करना इम्पॉसिबल था. में और वो दोनों हे बहुत बेचैन थे और हूर मौके का ज्यादा से ज्यादा फायदा उठाने के मूंड़ में थे. फिर रात होने पर जब सब सो गये. मैंने उसको कहा- टॉयलेट में जाना चुपके से. मौका देख कर उसके टॉयलेट में जाने के बाद में भी चला गया. दरवाजा बंद था टॉयलेट का अंदर से. मैंने पूछा कौन है? उसने कहा- में हूँ प्रीत. उसने दरवाजा खोला और में अंदर घुस गया. हम एक दूसरे पर टूट पड़ा. वो कहने लगी इतने सालों का इंतजार कल पूरा हो जाएगा. कल मेरी सुहागरात है ना. मैंने कहा- हां, कल तुम्हारी सुहाग रात है.

और तेरी चुदाई तेरा यह भैया करेगा. वो तो हॉर्नी हो चुकी थी. उसने जल्दी से मेरी पेंट उतरी और लंड तुरंत मुंह में ले लिया. पूरा का पूरा लंड गले तक पहुंच चुका था. 10 मिनट बाद, लंड में मलाई निकली और सारा माल उसके मुंह के अंदर हे निकल गया. उसके होठों से मेरा जूस निकल रहा था. इस हालत में वो ब्लू फिल्म की हीरोइन लग रही थी. फिर उसने अपना मुंह साफ किया , हमने कपड़े ठीक किए और फिर हम बर्थ पर आकर सो गये.

Back

2 COMMENTS

  1. Koi bhi girls aur bhabhi ko real sex yaa sex chat karna Ho to aap mujhe whatsapp par smg bhej skti h..
    Age ki koi limit nhi h koi bhi age ki ladki ya bhabhi mujhe sex ke liye ya sex chat ke liye smg kar skti h..
    Ye baat puri tarah se secret rahe gee aap ki bich or mere bich bas…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here