सलवार कमीज़ वाली की चुदाई – गायत्री की वाइल्ड फॅंटसी स्टोरी

1
7689
Back

1. सलवार कमीज़ वाली की चुदाई – गायत्री की वाइल्ड फॅंटसी स्टोरी – Part – 1

मैं मुंबई मैं एक बैंक मैं जॉब करता हूँ. यहाँ पे मेरे साथ 6 लड़कियाँ कम कर थी हैं एक हीं ब्रांच मैं. गायत्री हमारे ब्रांच मैं कस्टमर सर्विस मैं है. गायत्री शादीशुदा है और उसको एक लड़की भी है, उसका हज़्बेंड आर्मी मैं है तो वो मोस्ट ऑफ थे टाइम बाहर हीं रहता है. गायत्री के बारे में कहूँ तो वो 5’6” हाइट स्लिम बिल्ट बॉडी विद आ 34/28/34 का फिगर.

वो हमेशा सलवार कमीज़ पहन थी थी और बहुत ही सिंपल से रहती थी. एक दिन अचानक उस को एक फोन आया और वो रो ने लगी, मैं उस के साइड मैं हीं बैठ था हूँ तो पूछा क्या हुआ तो वो बोली उसकी बेटी के स्कूल से था, उसकी बेटी बीमार है और उसे जाना पड़ेगा. मैंने कहा मैं भी आता हूँ शायद आपको कोई हेल्प की भी जरूरत हो और उसने मुझे इशारे से हाँ बोला(आस शी वाज़ नोट इन आ कंडीशन तो स्पीक).

हम लोग उसके बेटी के स्कूल गये और वहाँ से हॉस्पिटल, वहाँ डॉक्टर ने कहा के अकेलेपन पेन के वजह से शायद ये बीमार पड़ गयी घबराने की कोई जरूरत नहीं है बस थोड़ा टाइम दीजिए आपने बचे को. फिर मैं उन दोनों को उनके घर चोद ने गया. रास्ते भर मैं गायत्री के बेटी के साथ खेल था रहा वो भी मेरा कंपनी बहुत एंजाय कर रही थी. जब हम गायत्री के घर पहुंचे तब मैंने बोला ठीक है ई आम मूविंग, विल सी यू टुमॉरो. तब वो बोली अंदर तो आओ, तो मैंने बोला फिर कभी.

गायत्री: पिंकी को बहुत अच्छा लगे गा अगर आप आकर थोड़ा टाइम इसके साथ रहोगे तो.

अब मैं क्या बोलता, कहा ठीक है, चलिए. अंदर जाकर बैठे तो गायत्री चाय बनाना गयी और मैं पिंकी के साथ बैठ के कार्टून देख रहा था. थोड़ी देर मैं गायत्री आई और खड़ी रही के मुझे देख रही थी..कैसे पिंकी मेरे गोद मैं बैठ के से कार्टून देख रही थी. तभी मेरी नज़र उस पे गयी और पूछा क्या हुआ तो बोली कुछ नहीं, मैंने पिंकी को इतनी खुश कभी नहीं देखी थी किसी के साथ वो भी पहले मुलाकात मैं.

फिर हम थोड़ी देर बात कर रहे थे अचानक देखा तो पिंकी सो गयी थी मेरे गोद मैं. गायत्री ने कहा की लाओ मैं उसे बेड रूम मैं सुला देती हूँ. मैंने कहा ई विल . पिंकी को उस के बेड रूम मैं सुला दिया और मैं निकालने को तैयार हुआ तो पीछे से आवाज़ आई “उमेश, पीछे देखा तो गायत्री खड़ी थी, मैंने पूछा क्या हुआ तो बोली “थॅंक्स फॉर एवेरी थिंग”और आकर मुझे हग किया.

ई थॉट इट’से आ थॅंक्स गिविंग हग, लेकिन तो में सर्प्राइज़ इट कंटिन्यूड फॉर 3 मिनिट्स. मुझे समझ मैं नहीं आ रहा था कैसे रिएक्ट करूं. फिर मैंने हल्का धक्का देने की कोशिश की था के हम आलग होज़ाये, मगर उसने और ज़ोर से जकड़ लिया. फिर मैंने भी आपने दोनों हाथ उसके पीठ पे रख दिया और उसे आपने से जकड़ लिया. वो इसी तारा मुझ से लिपटी रही और धीरे से मेरे कानों मैं बोली पिंकी आज बहुत खुश थी सिर्फ़ आपके वजह से, आपको जो माँग ना है माँग लो मुझ से आज मैं मना नहीं करूँगी.

मैं समझ गया वो क्या कह ना चाह रही थी और इट्स नॅचुरल की अगर पति इतने दीनों से बाहर है तो सेक्स की भूख रहेगी हीं. मैं अंजान बन के पूछा क्या माँगूँ आप से, तो उसने अपनी पकड़ थोड़ी ढीले की और उसका चेहरा मेरे चेहरे के एकदम सामने था उसने कहा बुढ़ू इतना भी पता नहीं आपको. तो मैंने कहा ठीक है आप जो से देना चाहे दे सकती हैं मैं मना नहीं करूँगा आख़िर कर आप का पहला गिफ्ट होगा मेरे लिए.

इस दौरान हम दोनों के गरम सांसें तेज होने लगी और ये साफ महसूस हो रहा था. तब वो अपनी लिप्स मेरे लिप्स के करीब लाई और मैं उसके लोवर लिप्स को आपने लिप्स से पकड़ लिया और चूस ने लगा. कुछ ही सेकेंड्स मैं वो भी तेज तेज चूस ने लगी और हम दोनों बड़ी बड़ी एक दूसरे के मुंह मैं जीभ को अंदर बाहर कर ने लगे. थोड़े हीं देर मैं उस मैं एक अजीब सा पागल पान आ गया था. फिर वो मुझ से आलग हुई और मेरा हाथ पकड़ कर बेड रूम के तरफ खिच ते हुए ले गयी.

Back

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here